Aankhen Shayari Dearest

Ankho Ki Nami Shayari For Dearest

  • Milayenge Nazar Kis Se
    Ke Wo Bedeed Hain Aise,
    Nahi Aayina Me Aankhein
    Milaate Apni Aankho Se.

    Jo Wo Aankhon Me Aaya
    Kaun Usko Dekh Sakta Tha,
    Kasam Aankhon Ki Hum Usko
    Chhupate Apni Aankhon Se.

    Zafar Giriya Humara
    Kuchh Na Kuchh Taseer Rakhta Hai,
    Unhe Hum Dekhte Hain
    Muskurate Apni Aankhon Se.

  • Ye Kaho, Wo Kaun Si Baat Juban Tak Aate Aate Ru Gayi,
    Ye Batao, Us Baat Ki Chuppi Se Tumhari Najre Kyu Jhuk Gayi.

Shayari On Eyes In Roman English For Dearest

  • Ai Samandar Main Tujhse Waqif Hu
    Magar Itna Batata Hu,
    Wo Aankhein Tujhse Gehri Hain
    Jinka Main Aashiq Hu.
  • जो उनकी आँखों से बयान होते हैं,
    वो लफ्ज शायरी में कहाँ होते हैं ।

Nazar Shayari 2 Line Hindi For Dearest

  • Hindi Aankhein Shayari about Deep and Beautiful Eyes
  • Uski Kudrat Dekhta Hun Teri Aankhein Dekhkar,
    Do Piyalon Me Bhari Hai Kaise Lakhon Man Sharab.

Quotes On Beautiful Eyes For Dearest

  • Aankhon Par Teri Nigahon Ne Dastkhat Kya Kie,
    Hamne Sanson Ki Vasiyat Tumhare Naam Kar Di.
  • मिलायेंगे नजर किससे कि वो बेदीद हैं ऐसे,
    नहीं आईना में आँखें मिलाते अपनी आँखों से।
    Milayenge Najar Kis Se Ke Wo Bedeed Hain Aise,
    Nahi Aayina Mein Aankhein Milaate Apni Aankho Se.

Duri Par Shayari For Dearest

  • तुम्हारी प्यार भरी निगाहों को देखकर
    हमें कुछ ऐसा गुमान होता है,
    देखो ना मुझे इस कदर मदहोश नज़रों से
    कि दिल बेईमान होता है।
  • Aankhon Par Teri Nigahon Ne Dstkhat Kya Diye,
    Humne Sanso Ki Wasiyat Tumhare Naam Kar Di.

Shayari On Eyes Rekhta For Dearest

  • सामने ना हो तो तरसती हैं आँखें,
    याद में तेरी बरसती हैं आँखें,
    मेरे लिए नहीं इनके लिए ही आ जाओ,
    आपका बेपनाह इंतज़ार करती हैं आँखें।
  • ना जाने कौन सा जादू है तेरी बाहों में,
    शराब सा नशा है तेरी आँखों में,
    तेरी तलाश में तेरे मिलने की आस लिए,
    दुआऐं मांगता फिरता हूँ मैं दरगाहों में।

Khoobsurat Aankhen Shayari In English For Dearest

  • ज़फ़र गिरिया हमारा कुछ-न-कुछ तासीर रखता है,
    उन्‍हें हम देखते हैं मुस्कुराते अपनी आँखों से।
    Zafar Giriya Humara Kuchh Na Kuchh Taseer Rakhta Hai,
    Unhein Hum Dekhte Hain Muskurate Apni Aankhon Se.
  • देखकर काजल की लकीरें उनकी आँखों में,
    पहली दफ़ा ये जाना कि ये चाँद की ख़ूबसूरती रात से क्यूं है।

Aankhen Shayari Rekhta For Dearest

  • आपने नज़र से नज़र जब मिला दी,
    हमारी ज़िन्दगी झूम कर मुस्कुरा दी,
    जुबान से तो हम कुछ भी न कह सके,
    पर आँखों ने दिल की कहानी सुना दी।
  • देखा है मेरी नजरों ने एक रंग छलकते पैमाने का,
    यूँ खुलती है आँख किसी की जैसे खुले दर मैखाने का।
    Dekha Hai Meri Najron Ne Ek Rang Chhalkte Paimaane Ka,
    Yoon Khulti Hai Aankh Kisi Ki Jaise Khule Dar Maikhane Ka.

2 Line Shayari On Nigahen For Dearest

  • उतर चुकी है मेरी रूह में किसी की निगाह,
    तड़प रही है मेरी ज़िंदगी किसी के लिए।
    Utar Chuki Hai Meri Rooh Mein Kisi Ki Nigaah,
    Tadap Rahi Hai Meri Zindagi Kisi Ke Liye.
  • आँखों पर तेरी निगाहों ने दस्तख़त क्या दिए,
    हमने साँसों की वसीयत तुम्हारे नाम कर दी।

2 Line Shayari On Nigahen For Dearest

  • Nasheeli Aankhon Se Wo Jab Hamen Dekhte Hain,
    Hum Ghabra Ke Apni Aankhein Jhuka Lete Hain,
    Kaise Milaaye Hum Un Aankhon Se Aankhein,
    Suna Hai Wo Aankhon Se Apna Bana Lete Hai.
  • मिली जब भी नजर उनसे धड़कता है हमारा दिल,
    पुकारे वो उधर हमको इधर दम क्यों निकलता है।
    Mili Jab Bhi Najar Unse Dhadkata Hai Hamara Dil,
    Pukaare Wo Udhar Humko Idhar Dum Kyu Nikalta Hai.

You may also like