Aankhen Shayari Men

Khoobsurat Aankhen Shayari For Men

  • Jaane Kyun Doob Jata Hun Har Bar Inhein Dekh Kar,
    Ek Dariya Hain Ya Poora Samandar Hain Teri Aankhein.
  • निगाहों पर निगाहों के पहरे होते हैं,
    इन निगाहों के घाव भी इतने गहरे होते हैं,
    न जाने क्यों कोसते हैं लोग दीवानों को,
    बर्बाद करने बाले तो वो हसीन चेहरे होते हैं।

Shayari On Eyes By Gulzar For Men

  • नशीली आंखो से वो जब हमें देखते हैं,
    हम घबरा के अपनी ऑंखें झुका लेते हैं,
    कैसे मिलाए हम उन आँखों से आँखें,
    सुना है वो आँखों से अपना बना लेते हैं।
  • आँखों पर तेरी निगाहों ने दस्तख़त क्या दिए,
    हमने साँसों की वसीयत तुम्हारे नाम कर दी।

Shayari On Eyes Rekhta For Men

  • Milayenge Nazar Kis Se
    Ke Wo Bedeed Hain Aise,
    Nahi Aayina Me Aankhein
    Milaate Apni Aankho Se.

    Jo Wo Aankhon Me Aaya
    Kaun Usko Dekh Sakta Tha,
    Kasam Aankhon Ki Hum Usko
    Chhupate Apni Aankhon Se.

    Zafar Giriya Humara
    Kuchh Na Kuchh Taseer Rakhta Hai,
    Unhe Hum Dekhte Hain
    Muskurate Apni Aankhon Se.

  • Uss Ghadi Dekho Unka Aalam,
    Neend Se Jab Hon Bhojhal Aakhein,
    Kaun Meri Najar Mein Samaaye,
    Dekhi Hain Maine Tumhari Aankhein.
    उस घड़ी देखो उनका आलम
    नींद से जब हों बोझल आँखें,
    कौन मेरी नजर में समाये
    देखी हैं मैंने तुम्हारी आँखें।

Ankho Ki Nami Shayari For Men

  • Ek Najar Dekh Le Hume Jeene Ki Izazat De De,
    Ai Ruthne Wale… Wo Pahli Si Mohabbat De De.
  • उसकी कुदरत देखता हूँ तेरी आँखें देखकर,
    दो पियालों में भरी है कैसे लाखों मन शराब।

Shayari On Beauty Of A Girl For Men

  • चिरागों को आंखों में महफूज रखना,
    बड़ी दूर तक रात ही रात होगी,
    मुसाफिर हो तुम भी, मुसाफिर हैं हम भी,
    किसी मोड़ पर, फिर मुलाकात होगी।
  • ऐ समंदर मैं तुझसे वाकिफ हूँ
    मगर इतना बताता हूँ,
    वो ऑंखें तुझसे गहरी हैं 
    जिनका मैं आशिक हूँ।

Meri Nashili Aankhen Shayari In Hindi For Men

  • मिली जब भी नजर उनसे धड़कता है हमारा दिल,
    पुकारे वो उधर हमको इधर दम क्यों निकलता है।
    Mili Jab Bhi Najar Unse Dhadkata Hai Hamara Dil,
    Pukaare Wo Udhar Humko Idhar Dum Kyu Nikalta Hai.
  • Nigahon Par Nigaahon Ke Pahre Hote Hain,
    In Nigahon Ke Ghao Bhi Itne Gahre Hote Hain,
    Na Jaane Kyu Koste Hain Log Deewane Ko,
    Barbaad Karne Wale To Wo Haseen Chehre Hain.

Shayari On Beautiful Smile For Men

  • UthhTi Nahi Hai Aankh Kisi Aur Ki Taraf,
    Paband Kar Gayi Hai Kisi Ki Najar Mujhe,
    Imaan Ki Toh Ye Hai Ke Imaan Ab Kahan,
    Kafir Banaa Gayi Teri Kafir Najar Mujhe.
    उठती नहीं है आँख किसी और की तरफ,
    पाबन्द कर गयी है किसी की नजर मुझे,
    ईमान की तो ये है कि ईमान अब कहाँ,
    काफ़िर बना गई तेरी काफ़िर-नज़र मुझे।
  • Aankhon Par Teri Nigahon Ne Dastkhat Kya Kie,
    Hamne Sanson Ki Vasiyat Tumhare Naam Kar Di.

Aankhen Shayari Rekhta For Men

  • सुकून की तलाश में तुम्हारी आँखों में झाँका था हमने,
    किसे पता था कम्बखत दिल का दर्द और मिल जाएगा।
  • खुलते हैं मुझपे राज कई इस जहान के,
    उसकी हसीन आँखों में जब झाँकता हूँ मैं।
    Khulte Hain Mujh Pe Raaz Kayi Iss Jahan Ke,
    Us Ki Haseen Aankhon Mein Jab Jhaankta Hoon Main.

Shayari For Beautiful Dance Hindi For Men

  • Shor Na Kar Dhadkan Jara, Tham Ja Kuch Pal Ke Liye,
    Badi Mushkil Se Meri Aankhon Me Uska Khwab Aaya Hai.
  • Sagar Se Gahri Hain Aapki Ye Najren,
    Khushiyon Ki Shahnai Hain Aapki Ye Najren,
    Husn Ka Jaam Hain Aapki Ye Najaren,
    Chhupayen Kai Armaan Aapki Ye Najren,
    Le Le Na Kahin Hamari Jaan Aapki Ye Najaren

Beautiful Status Shayari For Men

  • Ishq Ke Phool Khilte Hain Teri KhoobSurat Aankhon Mein,
    Jahan Dekhe Tu Ek Najar Wahan Khushboo Bikhar Jaaye.
    इश्क के फूल खिलते हैं तेरी खूबसूरत आँखों में,
    जहाँ देखे तू एक नजर वहाँ खुशबू बिखर जाए।
  • तमाम अल्फाज़ नाकाफी लगे मुझको,
    एक तेरी आँखों को बयां करने में।
    Tamaam Alfaz NaaKaafi Lage Mujhko,
    Ek Teri Aankhon Ko Bayaan Karne Mein.

You may also like