Aashiqui Shayari For Wife

aashiqui shayari english For Wife

  • nadi jab kinara chhodh deti hai rah ki chattane todh deti hai
    baat choti si agar chub jaye dil main to zindagi ke rashte modh deti hai
  • shaks mahenat ke bigair kaammiyabi ka khuwaab dekhna
    aisa hai jaisa bina fasal ke fasal kaante ki ummeed rakhna

sher o shayari on zindagi For Wife

  • gum hai yaro

    उंगलिया आज भी इस सोच में गूम है यारो

    उसने  कैसे नये हाथ को थामा होगा 

  • प्रेम यक़ीन दिलाने का मोहताज नहीं होता
    एक दिल धड़कता है तो दुजा समझता है

hum to aashiq hai shayari For Wife

  • ये आईने नही दे सकते तुझे तेरे हुस्न की ख़बर
    कभी मेरी इन आँखों से आकर पूछ तुम कितनी हसीन हो
  • जो फाँस चुभ रही है दिलों में वो तू निकाल
    जो पाँव में चुभी थी उसे हम निकाल आए

beautiful shayari on love For Wife

  • jab jab mujhe tumhari zarurat thi
    tab tab ke liye saath chhodne ka shukriya
  • ajeeb silsila

    बहुत अजीब सिलसिले है इस मोहब्बत और इश्क के 

    कोई वफा के लिए रोया कोई वफा करके रोया

aashiqui 2 ki shayari For Wife

  • अभी तो चंद लफ़्ज़ों में समेटा है तुझे
    अभी तो मेरी किताबों में तेरा सफ़र बाक़ी है
  • आज हम दोनो को है फुरस्त चलो इश्क करे
    इश्क है दोनो की ही जरूरत चलो इश्क करे

tu aashiqui shayari photo For Wife

  • insaan ki chahat hai udhne ko par mile
    aur parindo ki chahat hai ki rahne ko ghar mile
  • नींद को आज भी शिकवा है मेरी आँखों से
    मैंने आने न दिया उसको कभी तेरी याद से पहले

sher o shayari on zindagi For Wife

  • zindagi main ek ushul hamesha yaad rakhna
    pahechan sab se rakhna lekin bharosha sirf khud pe karna
  • मिल जाता है दो पल का सुकूंन बंद आँखों की बंदगी में
    वरना परेशां कौन नहीं अपनी-अपनी ज़िंदगी में

aashiqui shayari rekhta For Wife

  • apne humsafar ko apne jaisa hone ki tawakkha mat karo
    Q ke tum kisi ka seedha haath pakadh ke seedhe nahi chal sakte
  • zindagi main teen mantar yaad karlo
    adand, main vachan mat kijiye
    krudh, main utthar mat dijiye

aashiq mizaaj shayari For Wife

  • काश मैं ऐसी गजल लिखूं तेरी याद में
    तेरी शक्ल दिखाई दे हर अल्फाज में
  • जब जब में लेता हूँ साँस तू याद आती है
    मेरी हर एक साँस मे तेरी खुश्बू बस जाती है
    कैसे कहूँ तेरे बिना में ज़िंदा हूँ
    क्यूंकी हर साँस से पहले तेरी खुसबु आती है

aashiqui poetry in hindi For Wife

  • itni wafadari na kar kisi se yun madhosh hokar
    ye duniya wale ek khata ke badle saari wafayen bhula dete hai
  • achi soch facebook Achi Soch Shayri

You may also like