Adult Shayari For FB

top 10 Adult Shayari in hindi For FB

  • तुमने कहाँ हम याद नहीं आएँगे तुम्हें फिर
    बताना ज़रा ये सुबह-सुबह हमारा ज़िक्र क्युँ बोलो
  • हमारे आँखो मे वो नशा है जो किसी को भी hangover करवा दे
    इसलिए तो हम अपनी आँखो पे gogals पहनते
    G.R..s

Adult Shayari for friend insult For FB

  • जब भी होता हैं बेचैन ये दिल तेरे दीदार को
    उठाके निगाहें देख लेते हैं फ़लक़ पे चाँद को—-|
  • खुशियाँ उतनी ही अच्छी
    जितनी मुट्ठियों मे समा जाए
    छलकती बिखरती खुशियो को
    अक्सर नजर लग जाया करती है

Adult Shayari collection For FB

  • कुछ तो अपने दिल को मोम करो
    इतनी भी बेरुख़ी भला किस काम की
  • है कोई मुझे मेरे ख्वाब की, ताबीर बताने वाला
    मैने देखा है खुद की लाश पेँ खुद को रोते हुए

Adult Shayari app download For FB

  • तुझे याद कर लूँ तो मिल जाती है हर दर्द से राहत
    ऐ माँ
    लोग यूँ ही हल्ला मचाते है कि दवाइयाँ महँगी हैं
  • उसने हाथो से छूकर दरिया के पानी को गुलाबी कर दिया
    हमारी बात तो और थी उसने मछलियो को भी शराबी कर दिया

Adult Shayari in punjabi language For FB

  • मुझे सिर्फ दो ही तरह की लड़कियां पसंद है
    1. चश्मे वाली
    2. बिना चश्मे वाली
  • कहाँ ले जाऊँ दिल दोनों जहाँ में इसकी मुश्क़िल है
    कहाँ ले जाऊँ दिल दोनों जहाँ में इसकी मुश्क़िल है
    यहाँ परियों का मजमा है वहाँ हूरों की महफ़िल है
    इलाही कैसी-कैसी सूरतें तूने बनाई हैं
    हर सूरत कलेजे से लगा लेने के क़ाबिल है

very Adult Shayari in hindi For FB

  • मेरी हँसी में भी कई ग़म छुपे हैं डरता हूँ
    बताने से कहीं सबका प्यार से भरोसा न उठ जाए
  • सुना है आजकल तेरी मुस्कराहट गायब हो गई है
    तेरी इजाजत हो तो फिर से तेरे करीब आऊँ

Adult Shayari for best friend For FB

  • पुरानी होकर भी खास होती जा रही है
    मोहब्बत बेशरम है बेहिसाब होती जा रही है
    er kasz
  • हजार गम मेरी फितरत नही बदल सकते
    क्या करू मुझे आदत हे मुस्कुराने की

non veg shero shayari For FB

  • दिन हुआ है तो रात भी होगी हो मत उदास कभी बात भी होगी
    इतने प्यार से दोस्ती की है जिन्दगी रही तो मुलाकात भी होगी
  • संसार में दो तरीके के लोग हैं जो असफल होते है
    एक जो किसी की नहीं सुनते दूसरे जो हर किसी की सुनते

Adult Shayari in hindi 2018 For FB

  • ज़माने से लड़ी तूने ज़ंग कोई जब जब मैं तेरे साथ खड़ी थी तब तब
    खुद मैं तुझ संग ज़ंग लड़ूं कैसे
  • कुछ फितरत ही अपने दौडने की थी
    नहीँ तो जहाँ ठहर जाते वही मंजिल थी

Adult Shayari and jokes For FB

  • लड़की ढूंढनी होती तो कबकी ढूँढ लेते
    हम तो बादशाह है रानी ही ढूढेंगे
  • जब उसने मुझसे कहा तुम्हारे दोस्त अच्छे नहीं
    तब हम थोडा मुस्कुराये ओर कहा के पगली तेरी इतनी तो औकात नहीं
    की तु मेरे दोस्तों की औकात बता सके
    दिल तुझे दीया हैं लेकिन जान आज भी दोस्तो के लिए ही है

You may also like