Aitbaar Shayari For Women

aitbaar love shayari For Women

  • Jab Alfaaz Panno pe shor karne lage,
    Samajh lena Sannate badh gaye hain.
  • अलफ़ाज़ चुराने की हमें जरुरत ही ना पड़ी कभी,
    तेरे वे हिसाब ख्यालों ने वे हतासा लफ्ज दिए।

aitbaar nahi shayari For Women

  • कितना भी पकड़ लो पिसलता ज़रूर है
    ये वक़्त है साहेब बदलता ज़रूर है
  • जब अलफ़ाज़ पन्नो पर शोर करने लगे,
    समझ लेना सन्नाटे बढ़ गए हैं।

aitbaar shayari pics For Women

  • top 10 quotes anmol vchan

    acche logo ki ek khbi ye bhai hai ke
    inke wajha se koi narz nahi hota hai

    मैंने जिंदगी में एक ही बात सीखी है
    की इंसान को कोई चीज़ नहीं हरा
    सकती जब तक वो खुद न हार
    मानले
    mainne jindagee mein ek hee baat seekhee hai
    kee insaan ko koee cheez nahin hara
    sakatee jab tak vo khud na haar
    maanale

    tumhari aulaad wo nahi de sakegi
    jo tum kehte ho balke
    wo de sakegi jo tum khud kre ho
    तुम्हारी औलाद वो नहीं दे सकेगी
    जो तुम कहते हो बल के
    वो दे सकेगी जो तुम खुद करे हो

  • Meri Shayari Ka Asar Un Par Ho Bhi To Kaise Ho?
    Ke Main Ehsaas Likhta Hun Wo Alfaz Parhte Hain.

bharosa shayari For Women

  • इस ग्रुप को यूं ही बनाये रखना; दिल में यादों के चिराग जलाये रखना; बहुत प्यारा सफ़र रहा साल 2014 का; अपना साथ 2015 में भी बनाये रखना। नया साल मुबारक!
  • Rutba To Khamoshiyon Ka Hota Hai Mere Dost…
    Alfaaz To Badal Jaate Hain Logon Ko Dekhkar.

aitbaar nahi karna shayari song For Women

  • बोलना तो सब लोग जानते है
    मगर कब और किया बोलना है ये
    बोहुत कम लोग जानते है
  • jo tumhari khamoshi se tumhari takleef ka andaza na kar sake
    uske samne zubaan se izhaar karna sirf lafzon ko
    barbaad karna hai
    उसे कहना किस्मत पे इतना भी नाज़ नहीं करते
    मैंने बारिश में भी जलते माकन देखें है

aitbaar shayari For Women

  • एक उम्र कटी दो अलफ़ाज़ में,
    एक आस में… एक काश… में।
  • Alfaaz To Bahut Hain
    Mohabbat Bayan Karne Ke Liye,
    Par Jo Khamoshi Nahi Samajh Sakte
    Woh Alfaaz Kya Samjhega.

aitbaar ki shayari For Women

  • तुम्हे सोचा तो हर सोच से खुसबू आयी,
    तुम्हे लिखा तो हर अलफ़ाज़ महकता पाया।
  • Hindi anmol vachan for parents Anmol Vachan in Hindi

aitbaar shayari images hindi For Women

  • ye barishon se dosti acchi nahi saheb
    kaccha tera makaan hai kuch to khayaal kar
  • Ye Jo Khamosh Se Alfaaz Likhe Hai Na,
    Padna Kabhi Dhyan Se Cheekhte Kamaal Hai…

shayari on aitbaar in hindi For Women

  • कोई भी इंसान पूरी दुनिया के लिए नहीं जीता
    बकले कुछ ख़ास लोगो के लिए जीता है
    जो इस के लिए सारी दुनिया होते है
  • acche rishton ke liye sharton ya wado ki zarurat nahi padhti
    us ke liye sirf do log cahiye jin mein se ek bharosha kare

aitbaar shayari photo For Women

  • मेरी शायरी का असर उन पर हो भी तो कैसे हो ?
    के मैं अहसास लिखता हूँ वो अल्फाज़ पड़ते हैं।
  • दोस्तो हमें गर्व है कि हमारे एडमिन जी ने ओबामा के साथ चाय पी ओबामा टीवी पर था और एडमिन जी घर पे आमने सामने चाय का दौर चला है। सच में बहुत गर्व है।

You may also like