Ajnabi Shayari For Chingari

ajnabi dosti shayari ajnabi dost shayari For Chingari

  • सजा द्वार है और एक ज्योति जगमगाई है; नसीब जागेगा उन जागरण कराने वालों का; नसीब जागेगा जागरण में आने वालों का; वो देखो मंदिर में मेरी माँ मुस्कुराई है। शुभ नवरात्रि!
  • Na Bhookh Hai Mujhe Na Daulat Ki Pyaas Baki Hai,
    Milti Rahe Har Kisi Se Mohabbat Ye Hi Kaafi Hai.

ajnabee shayari in hindi For Chingari

  • शेर पर सवार होकर; खुशियों का वरदान लेकर; हर घर में विराजी अंबे माँ; हम सबकी जगदंबे माँ। शुभ नवरात्रि!
  • चाँद की चाँदनी बसंत की बहार; फूलों की खुशबु अपनों का प्यार; मुबारक हो आपको नवरात्रि का त्योंहार; सदा खुश रहें आप और आपका परिवार। हैप्पी नवरात्रि!

ajnabi shayari 2 lines For Chingari

  • जब से तेरे दर पे आया माँ तुमने मेरे भाग्य को फेरा; चाहे तू अपना मान ना मान पर मैं तेरा हूँ तेरा। जय माता दी! शुभ नवरात्रि!
  • माँ दुर्गा हमें सर्वश्रेष्ठ बनने का; साहस-इच्छा-धैर्य प्रदान करें; और उनकी असीम कृपा हम पर बनी रहे। आपको और आपके परिवार को नवरात्रि की शुभकामनाएं!

ajnabi shayari urdu sms For Chingari

  • सारा जहां है जिसकी शरण में; नमन है उस माँ के चरण में; हम है उस माँ के चरणों की धूल; आओ मिलकर माँ को चढ़ाएं श्रद्धा के फूल। शुभ नवरात्रि।
  • लाल फूलों की माला से सजा माँ का दरबार; पुलकित हुआ मन उतावला हुआ संसार; माँ अपने क़दमों से आयी है आपके द्वार; मुबारक हो आपको नवरात्रि का ये पावन त्योंहार!

ajnabi friendship shayari For Chingari

  • सिंहासनगता नित्यं पद्माश्रितकरद्वया। शुभदास्तु सदा देवी स्कन्दमाता यशस्विनी॥ जय स्कंदमाता! शुभ नवरात्रि!
  • नवरात्री के इस पावन पर्व पर माँ नैना देवी आपके नैनों की रक्षा करें; माँ चिंतपूर्णी आपके सभी चिंताएं दूर करें; और माँ कामना देवी आपकी सभी मनोकामनाओं को पूरा करें! शुभ नवरात्री!

ajnabi se dosti shayari For Chingari

  • जितने भी हैं जहां पे उन्हीं के लाल हैं सारे; उनके इशारों पे चलते हैं ये चाँद और तारे; पल भर के लिए ही सही माँ को याद कीजिए; होगी पूरी तम्मना जरा फ़रियाद कीजिए। नवरात्रि की शुभकामनाएं!
  • Taqdeer Likhne Wale Ek Ahasan Likh De,
    Meri Mohabbat Ki Taqdeer Me Muskan Likh De,

ajnabi dost ki shayari For Chingari

  • Har Ek Pahlu Tera Mere Dil Me Abaad Ho Jaye,
    Tujhe Main Is Kadar Dekhu Mujhe Tu Yaad Ho Jaye!
  • नवरात्रि के वक़्त घर पर चिकन खा सकते हैं क्योंकि घर की मुर्गी दाल बराबर होती है। शुभ नवरात्रि!

ajnabi sad shayari For Chingari

  • शैलपुत्री ब्रह्मचारिणी चंद्रघण्टा कुष्मांडा कात्यायनी कालरात्रि महारात्रि सिद्धिदात्री माँ के ये नौ रूप आपकी मनोकामनाएं पूरी करें। जय माँ कुष्मांडा! नवरात्रि की शुभकामनाएं!
  • जगत पालन हार है माता; मुक्ति का एक धाम है माता; हमारी भक्ति का आधार है माता; हम सबकी रक्षा की अवतार है माता। नवरात्रि की शुभ कामनायें!

ajnabi shayari 2 lines For Chingari

  • देवी माँ के कदम आपके घर में आयें; आप ख़ुशी से नहायें; परेशानियाँ आपसे आँखें चुरायें; नवरात्रि की आपको ढेरों शुभ कामनाएं। शुभ नवरात्रि।
  • Har Ek Pahlu Tera Mere Dil Me Abaad Ho Jaye,
    Tujhe Main Is Kadar Dekhu Mujhe Tu Yaad Ho Jaye!

ajnabi shayari in hindi font For Chingari

  • Na Mile Zindgi Me Kabhi Bhi Dard Usko,
    Chahe Uski Kismat Me Meri Jaan Likh De !
  • माँ दुर्गे माँ अम्बे माँ जगदम्बे माँ भवानी माँ शीतला माँ वैष्णों माँ चंडी नवरात्रि के शुभ अफसर पर माता रानी मेरी ओर से आप सभी की मनोकामना पूरी करे। जय माता दी।

You may also like