Ajnabi Shayari For Men

ajnabi se dosti shayari For Men

  • नवरात्री के इस पावन पर्व पर माँ नैना देवी आपके नैनों की रक्षा करें; माँ चिंतपूर्णी आपके सभी चिंताएं दूर करें; और माँ कामना देवी आपकी सभी मनोकामनाओं को पूरा करें! शुभ नवरात्री!
  • शैलपुत्री ब्रह्मचारिणी चंद्रघण्टा कुष्मांडा कात्यायनी कालरात्रि महारात्रि सिद्धिदात्री माँ के ये नौ रूप आपकी मनोकामनाएं पूरी करें। जय माँ कुष्मांडा! नवरात्रि की शुभकामनाएं!

ajnabi shayari urdu sms For Men

  • माँ दुर्गा आपको अपनी 9 भुजाओं से 1. बल 2. बुद्धि 3. ऐश्वर्या 4. सुख 5. स्वास्थ्य 6. दौलत 7. अभिजीत 8. निर्भीकता 9. सम्पनता प्रदान करे। जय माता दी। नवरात्रि की शुभ कामनायें!
  • माँ दुर्गे माँ अम्बे माँ जगदम्बे माँ भवानी माँ शीतला माँ वैष्णों माँ चंडी नवरात्रि के शुभ अफसर पर माता रानी मेरी ओर से आप सभी की मनोकामना पूरी करे। जय माता दी।

ajnabi par shayari For Men

  • जितने भी हैं जहां पे उन्हीं के लाल हैं सारे; उनके इशारों पे चलते हैं ये चाँद और तारे; पल भर के लिए ही सही माँ को याद कीजिए; होगी पूरी तम्मना जरा फ़रियाद कीजिए। नवरात्रि की शुभकामनाएं!
  • क्या है पापी क्या है घमंडी; माँ के द्वार पर सभी शीश झुकाते हैं; मिलता है चैन तेरे दर पे मैया; झोली भर के सभी यहाँ से जाते हैं। हैप्पी नवरात्रि!

ajnabi log shayari For Men

  • खुशियों और आपका जन्म-जन्म का साथ हो; हर किसी की जुबान पर आपकी हँसी की ही बात हो; जीवन में कोई मुसीबत आए भी तो आपके सिर पर माँ दुर्गा का हाथ हो। नवरात्रि की हार्दिक शुभकामनाएं!
  • जगत पालन हार है माता; मुक्ति का एक धाम है माता; हमारी भक्ति का आधार है माता; हम सबकी रक्षा की अवतार है माता। नवरात्रि की शुभ कामनायें!

shayari on ajnabi in hindi For Men

  • जगत पालन हार है माँ; मुक्ति का धाम है माँ; हमारी भक्ति का आधार है माँ; हम सब की रक्षा की अवतार है माँ। नवरात्रि की शुभकामनाएं!
  • Chalte Chalte Mere Kadam
    Hamesha Yehi Sochate Hain,
    Ki Kis Or Jaaun To Tu Mil Jaye!

ajnabi log shayari For Men

  • ताज्जुब न कीजियेगा गर कोई दुश्मन भी आपकी खेरियत पूछ जाये
    ये वो दौर है जहाँ हर मुलाक़ात में मकसद छुपे होते हें
  • Shaam Ke Baad Subah Aati Hai,
    Dekh Lena Apni Aankhon Se,
    Dil Ki Baat Ek Din Honthhon Pe Aayegi,
    Sun Lijiyega Apne Kaano Se.

ajnabi ki shayari For Men

  • जब से तेरे दर पे आया माँ तुमने मेरे भाग्य को फेरा; चाहे तू अपना मान ना मान पर मैं तेरा हूँ तेरा। जय माता दी! शुभ नवरात्रि!
  • Taqdeer Likhne Wale Ek Ahasan Likh De,
    Meri Mohabbat Ki Taqdeer Me Muskan Likh De,

ajnabi love shayari For Men

  • चाँद की चाँदनी बसंत की बहार; फूलों की खुशबु अपनों का प्यार; मुबारक हो आपको नवरात्रि का त्योंहार; सदा खुश रहें आप और आपका परिवार। हैप्पी नवरात्रि!
  • एकवेणी जपाकर्णपूरा नग्ना खरास्थिता लम्बोष्टी कर्णिकाकर्णी तैलाभ्यक्तशरीरिणी। वामपादोल्लसल्लोहलताकण्टकभूषणा वर्धनमूर्धध्वजा कृष्णा कालरात्रिर्भयङ्करी॥ जय कालरात्रि माँ! शुभ नवरात्रि!

ajnabi love shayari For Men

  • सारा जहां है जिसकी शरण में; नमन है उस माँ के चरण में; हम है उस माँ के चरणों की धूल; आओ मिलकर माँ को चढ़ाएं श्रद्धा के फूल। शुभ नवरात्रि।
  • Har Ek Pahlu Tera Mere Dil Me Abaad Ho Jaye,
    Tujhe Main Is Kadar Dekhu Mujhe Tu Yaad Ho Jaye!

shayari for ajnabi in hindishayari on ajnabi For Men

  • सिंहासनगता नित्यं पद्माश्रितकरद्वया। शुभदास्तु सदा देवी स्कन्दमाता यशस्विनी॥ जय स्कंदमाता! शुभ नवरात्रि!
  • Na Bhookh Hai Mujhe Na Daulat Ki Pyaas Baki Hai,
    Milti Rahe Har Kisi Se Mohabbat Ye Hi Kaafi Hai.

You may also like