Attitude Shayari For Men

attitude shayari khatarnak For Men

  • हमारा जीने का तरीका थोड़ा अलग हैं .
    हम उम्मीद पर नहीं,अपनी जिद पर जीते हैं.
  • मीठे गुड़ में मिल गये तिल…
    उड़ी पतंग और खिल गये दिल…!!

love with attitude shayari For Men

  • मोहबत छोड़ दी हमने,
    कोई मुबारक बाद तो दो…
  • एक साल और बीत गया उसे लताश करते
    ए ज़िन्दगी एक अहेसान कर मेरे हमसफ़र का पता बता से

attitude shayari download For Men

  • Teri Mohabbat Ko Kabhi Khel Nahi Samjha,
    Varna Khel To Itne Khele Hain Ke Kabhi Haare Nahi.
  • सिसक कर पूछती है
    मुझसे ये तनहाईय़ा
    जो बड़े हमदर्द थे तेरे
    आखिर वो बेबफाई कैसे कर गये

attitude shayari For Men

  • अच्छा हुआ तूने ठुकरा दिया मुझे,
    प्यार चाहिए था तेरा एहसान नही !!
  • रिश्तों की बातें बस दिल तक रखना
    दिमाग चालक है हिसाब लगाएगा

attitude shayari jalne wale For Men

  • ज़ुबान का वज़न बहुत ही हल्का होता है…
    मगर बहुत कम लोग ही संभाल पाते हैं…!!
  • छोडो अब ये मुहोब्बत की बातें..
    मिलावट की दुनियां में प्यार भी कुछ मिलावटी सा हैं।

attitude shayari with photo For Men

  • आ कि तुझ बिन इस तरह ऐ दोस्त घबराता हूँ मैं
    जैसे हर शै में किसी शै की कमी पाता…
  • वो कब का भूल चुका होगा प्यार का किस्सा,
    ऐ-दिल बिछड़ कर कब किसी को किसी का ख्याल रहता है।

attitude shayari long For Men

  • मेरे लफ्ज़ भी खामोश है…
    उसकी ख़ामोशी भी बोलती है…!!
  • मुहब्बत दिल में कुछ ऐसी होनी चाहिये, की हासिल भले वो दूसरे को हो
    पर कमी उसको ज़िन्दगी भर अपनी…

attitude shayari jabardasth For Men

  • Main Is Kaabil To Nahin Ki Koi Apna Samjhe,
    Par Itna Yakin Hai, Koi Afsos Jarur Karega Mujhe Kho Dene Ke Baad.
  • Zindagi Yun Hi Bahut Kam Hai Mohabbat Ke Liye,
    Fir Ek Dusre Se Rooth Kar Waqt Gawane Ki Jarurat Kya Hai.

attitude shayari for boys For Men

  • जा के कोई कह दे, शोलों से चिंगारी से
    फूल इस बार खिले हैं बड़ी तैयारी से

    बादशाहों से भी…

  • दिखावे की मोहब्बत तो जमाने को है हमसे पर,
    ये दिल तो वहाँ बिकेगा जहाँ ज़ज्बातो की कदर होगी।
    Dikhaave Ki Mohabbat To Jamaane Ko Hain Hamase Par,
    Ye Dil To Wahan Bikega Jahan Zajbato Ki Kadar Hogi..

attitude shayari in hindi For Men

  • सीली लकडी से सुलगते रिश्ते,
    ना जलते हैं, ना बुझते हैं…
    आँखो से आँसू गिरते हैं,
    ये रिश्ते इतना धुंआ…
  • खून में तेरे मिट्टी, मिट्टी में तेरा खून..
    ऊपर सूरज, नीचे डामर, बीच में मई और जून।

You may also like