Bewafa SMS For Spouse

dhoka shayari odia photo For Spouse

  • बर्बादी का दोष दुश्मनों को देती रही मैं अब तलक
    दोस्तों को भी परख लिया होता तो अच्छा होता
    यूँ तो हर मोड़ पर मिले कुछ दगाबाज लेकिन
    आस्तीन को भी झठक लिया होता तो अच्छा होता
  • हमारी तबियत भी न जान सके हमे बेहाल देखकर,
    और हम कुछ न बता सके उन्हें खुशहाल देखकर।

dhoka shayari marathi sharechat For Spouse

  • हमारे लिए उनके दिल में चाहत ना थी
    किसी ख़ुशी में कोई दावत ना थी
    हमने दिल उनके कदमों में रख दिया
    पर उन्हें ज़मीन देखने की आदत ना थी
  • वो निकल गए मेरे रास्ते से इस कदर कि,
    जैसे कि वो मुझे पहचानते ही नहीं,
    कितने ज़ख्म खाए हैं मेरे इस दिल ने,
    फिर भी हम उस बेवफ़ा को बेवफ़ा मानते ही नहीं।

dhoka khaya shayari For Spouse

  • उसने महबूब ही तो बदला है फिर ताज्जुब कैसा,
    दुआ कबूल ना हो तो लोग खुदा तक बदल लेते है।
    Usne Mahboob Hi To Badla Hai Fir Tajjub Kaisa,
    Dua Kabool Na Ho To Log Khuda Tak Badal Dete Hain.
  • ले कर वादा हमसे और भी आफत में डाला आपने,
    ज़िन्दगी मुश्किल थी, अब मरना भी मुश्किल हो गया !!

dhoka khabar shayari For Spouse

  • Woh Suna Rahe The Apni Wafao Ke Kisse,
    Hum Par Nazar Padi To Khamosh Ho Gaye.
  • Ye Chiraag-e-Jaan Bhi Ajeeb Hai,
    Ki Jala Hua Hai Abhi Talak,
    Uski Bewafai Ki Aandhiyaan To,
    Kabhi Ki Aa Ke Gujar Gayin.

dhoka shayari ki dayri For Spouse

  • तुझसे नराज़ नहीं ज़िन्दगी, बस खुद से खफा हैं,
    जी रहे हैं बिन तमन्ना, शायद ये ही दर्द ए दिल…
  • Ab Ke Ab Tasleem Kar Lein Tu Nahi Toh Main Sahi,
    Kaun Manega Ke Hum Mein Se Bewafa Koi Nahi.
    अब के अब तस्लीम कर लें तू नहीं तो मैं सही,
    कौन मानेगा कि हम में से बेवफा कोई नहीं।

dhoka shayari for bf For Spouse

  • Uski Bewafai Pe Bhi Fida Hoti Hai Jaan Apni,
    Agar Uss Me Wafa Hoti To Kya Hota Khuda Jane.
  • न कोई मज़बूरी है न तो लाचारी है,
    बेवफाई उसकी पैदायशी बीमारी है।
    Na Koi Majburi Hai Na To Lachari Hai,
    Bewafai Uski Paidayshi Beemari Hai.

dhoka shayari photo download For Spouse

  • रुशवा क्यों करते हो तुम इश्क़ को, ए दुनिया वालो,
    मेहबूब तुम्हारा बेवफा है, तो इश्क़ का क्या गनाह।
  • कैसा वक़्त है यह, उसे फुर्सत नहीं मुझे याद करने की,
    कभी वो शख्स मेरी ही सांसों से जिया करता…

dhoka shayari two line For Spouse

  • तुझे है मशक़-ए-सितम का मलाल वैसे ही,
    हमारी जान है जान पर बबाल वैसे ही,
    चला था जिक्र जमाने की बेवफ़ाई का,
    तो आ गया है तुम्हारा ख्याल वैसे ही।
  • ladki ke dil ko chu jane wali shayari

    वो हर बार अगर रूप बदल कर न आया होता,
    धोका मैने न उस शख्स से यूँ खाया होता,
    रहता अगर याद कर तुझे लौट के आती ही नहीं,
    ज़िन्दगी फिर मैने तुझे यु न गवाया होता

    vo har baar agar roop badal kar na aaya hota,
    dhoka maine na us shakhs se yoon khaaya hota,
    rahata agar yaad kar tujhe laut ke aati hi nahin,
    zindagi fir maine tujhe yu na gavaaya hota

dhoka shayari video hindi For Spouse

  • दाद देते है तुम्हारे नजर अंदाज करने के हुनर को,
    जिसने भी सिखाया वो उस्ताद कमाल का होगा !
  • शायरी से इस्तीफा दे रहा हूँ साहब…………!!!!
    किसी बेवफा ने फिर वफ़ा का वादा किया है………

dhoka shayari video For Spouse

  • dil chu jane wali sad sms

    तू तो हँस हँसकर जी रही है,
    जुदा होकर भी….कैसे जी पाया होगा वो,
    जिसने तेरे सिवा जिन्दगी कभी सोची ही नहीं

    too to hans hansakar jee rahi hai,
    juda hokar bhi….kaise ji paaya hoga vo,
    jisane tere siva zindagi kabhi sochi hi nahin

  • मुझे मालूम है हम उनके बिना जी नहीं सकते,
    उनका भी यही हाल है मगर किसी और के लिए।

dhoka shayari status download For Spouse

  • न मौत आती है न कोई दवा लगती है,
    न जाने उसने इश्क में कोनसा जहर मिलाया था !!
  • दो दिलों की धड़कनों में एक साज़ होता है,
    सबको अपनी-अपनी मोहब्बत पर नाज़ होता है,
    उसमें से हर एक बेवफा नहीं होता,
    उसकी बेवफ़ाई के पीछे भी कोई राज होता है।

dhoka shayari good night For Spouse

  • इंसान की फितरत को समझते हैं ये परिंदे,
    कितनी भी मोहब्बत से बुलाना मगर पास नहीं आयेंगे
  • रानी की ख्वाइश पूरी करने की भी बादशाह की एक हद होती है
    अपनी रानी पर सबकुछ लूटा दे तो वो बादशाह नहीं बेगम का गुलाम कहलाता है

dhoka diya tune shayari For Spouse

  • dhokha aur vishwas

    आपकी आँखे अक्सर वही लोग खोलते है- जिनपर आप आँखे बंद करके विश्वाश करते है

  • इस दौर में की थी जिस से वफ़ा की उम्मीद,
    आखिर को उसी के हाथ का पत्थर लगा मुझे।

dhoka shayari one line For Spouse

  • सूरज आग उगलता है सहना धरती को पड़ता है
    मोह्हबत निगाहे कराती है सहेना दिल को पड़ता है
  • कभी रूठी, कभी झूठी लगती हैं,
    ये शाम भी, तुझ सी लगती हैं !!

dhoka shayari download odia For Spouse

  • कितना भी प्यार कर लूँ मैं तुमको,
    तुम कभी मुझसे वफ़ा कर ही नहीं सकते
  • प्यार के स्पर्श से हर कोई कवि बन जाता है।

Deal of The Day


You may also like