Dard Bhari Shayari For Men

dard bhari shayari in hindi 160 images For Men

  • दर्द से हमारी अगर दोस्ती न होती,
    शब्द होते मगर उनमें शायरी न होती।
  • मत पूछ ईमानदारी का हाल इस दुनिया में ऐ ग़ालिब
    ईमान बेचकर ईमानदार बनते है लोग यहाँ

dard nayak shayari For Men

  • तप रहीं हैं इमारतें, अब कच्चे गाँव कहाँ
    चिलचिलाती धूप में अब पेडों की छाँव कहाँ
  • बडे अजीब है इस दुनिया में लोग…
    ये ऊपरवाले को तो एक मानते हैं,
    लेकिन ऊपरवाले कि एक नही मानते !!!

dard bhari shayari ka photo For Men

  • वो तो अंग्रेजो की औलादो ने शुरू किया Hi Hello
    वरना हम तो sita ram से पुरा भारत कवर कर देते
  • उस के दिल पर भी, क्या खूब गुज़री होगी
    जिसने इस दर्द का नाम, मोहब्बत रखा होगा।

pyar mohabbat shayari dard bhari For Men

  • समझ में कुछ नहीं आता,
    मोहब्बत किसको कहते हैं,
    मगर इतना समझता हूँ,
    के कहीं पर दर्द उठता है।
  • दिल मेँ बुराई रखने से बेहतर है
    अपनी नाराजगी जाहिर कर दो

dard bhari shayari image hd For Men

  • मैं रो रो जो कहने लगा दर्द-ए-दिल,
    वो मुँह फेर कर मुस्कराने लगा।
  • न जाने किस तरह के हैं दुनिया के लोग भी,
    प्यार भी प्यार से करते हैं और बर्बाद भी प्यार से।
    Na Jaane Kis Tarah Ke Hain Iss Duniya Ke Log Bhi,
    Pyar Bhi Pyar Se Karte Hain Aur Barbaad Bhi Pyar Se.

    लोग मुन्तज़िर ही रहे कि हमें टूटा हुआ देखें,
    और हम थे कि दर्द सहते-सहते पत्थर के हो गए।
    Log Muntzir Hi Rahe Ki Humein Toota Hua Dekhein,
    Aur Hum The Ki Dard Sahte-Sahte Patthar Ke Ho Gaye.

dard bhari shayari gf ke liye For Men

  • कुछ इस तरहा से सौदा कीया मुझसे मेरे वक़्त ने
    तजुर्बे देकर वो मुझसे मेरी नादानीया ले गया
  • ज़िन्दगी क्या किसी मुफलिस की काबा है जिस में,
    हर घडी दर्द के पैबंद लगे जाते हैं।

dard bhari shayari on dosti For Men

  • मुझे दर्द-ए-इश्क़ का मज़ा मालूम है,
    दर्द-ए-दिल की इन्तहा मालूम है,
    ज़िंदगी भर मुस्कुराने की दुआ मत देना,
    मुझे पल भर मुस्कुराने की सज़ा मालूम है।
  • इरादा कत्ल का था तो मेरा सर कलम कर देते
    क्यू इश्क मे डाल कर तुने हर साँस पर मौत लिख दी

dard bhari shayari ka wallpaper For Men

  • उसी का शहर, वही मुद्दई, वही मुंसिफ,
    हमें यकीन था हमारा क़सूर निकलेगा।
    Usi Ka Shahar, Wahi Muddai, Wahi Munsif,
    Humein Yakeen Tha Humara Qasoor Niklega.
  • ज़हर देता है कोई, तो कोई दवा देता है,
    जो भी मिलता है मेरा दर्द बढ़ा देता है।
    Zeher Deta Hai Koi, Toh Davaa Deta Hai,
    Jo bhi Milta Hai Mera Dard Barha Deta Hai.

dard bhari shayari 30 second ki For Men

  • kabhi munaseeb ho to hum se bhi qalaam karna
    suna hai tum bhi wafa ki baatien bohut karte ho
  • Maggi Ban होने से उन भोली भाली Angel प्रिया का क्या होगा
    जो उल्टी सीधी मैगी बना कर फेसबुक पर यम्मी मैगी कौन कौन खायेगा
    टाइप की पोस्ट डाल लाखों आशिकों के लाइक और कमेंट ले लेती थी

romantic and dard bhari shayari For Men

  • दिल को ऐसा दर्द मिला… जिसकी दवा नहीं,
    फिर भी खुश हूँ मुझे उस से कोई शिकवा नहीं,
    और कितने अश्क बहाऊँ अब उस के लिए,
    जिसको खुदा ने मेरी किस्मत में लिखा ही नहीं।
  • पूछा था हाल उन्होंने मेरा
    बड़ी मुद्दतों के बाद,
    कुछ गिर गया है आँख में,
    कह कर हम रो पड़े।

You may also like