Dil Shayari For Chingari

shayari dil ki baat For Chingari

  • देखा है जिन्दगी को कुछ इस करीब से
    चेहरे तमाम लगने लगे हैं, अजीब से !!
  • Maanind-e-Shama Yoon Toh Jale Hain Tamaam Umar.
    Lekin Humaare Dil Ke Andhere Na Kam Huye.
    मानिंद-ए-शमां यूँ तो जले हैं तमाम उम्र,
    लेकिन हमारे दिल के अँधेरे न कम हुए।

dil shayari marathi image For Chingari

  • अक्सर सूखे हुए होंठों से ही होती हैं मीठी बातें; प्यास बुझ जाये तो अल्फ़ाज़ और इंसान दोनों बदल जाया करते हैं।
  • हर बात पे रंजिशें हर बात पे हिसाब,
    शायद मैंने इश्क नहीं, नौकरी कर ली।
    Har Baat Pe Ranjishein, Har Baat Pe Hisab,
    Shayad Maine Ishq Nahi, Naukari Kar Li.

dil shayari good morning For Chingari

  • जिसकी आँखों में कटी थी सदियाँ; उसने सदियों की जुदाई दी है! गुलज़ार
  • Bada Hi Fark Tha Teri Aur Meri Mohabbat Mein,
    Tu Ne Sirf Aajmaya Humne Sirf Yakeen Kiya.

dil shayari in urdu For Chingari

  • Dil Wo Hai Jo Fariyad Se Bhara Rahta Hai,
    Hum Wo Hain Ki Kuchh Muh Se Nikalne Nahi Dete.
  • काश की खुदा ने दिल पत्थर के बनाये होते; तोड़ने वाले के हाथों में जख्म तो आए होते।

dil bhari shayari hindi For Chingari

  • किसी का क्या जो क़दमों पर जबीं-ए-बंदगी रख दी,
    हमारी चीज थी हमने जहाँ जानी वहाँ रख दी,
    जो दिल माँगा तो वो बोले ठहरो याद करने दो,
    जरा सी चीज़ थी हमने न जाने कहाँ रख दी।
  • Ishq Hara Hai To Dil Thaam Ke Kyu Bethey Ho,
    Tum To Har Baat Par Kehte The Koi Baat Nahi.

dil shayari e For Chingari

  • hum fir se

    कभी उदास बैठे हो तो बता देना….

    हम फिर से अपना दिल देंगे खेलने के लिए

  • काश उसे चाहने का अरमान न होता,
    मैं होश में रहते हुए अनजान न होता,
    ना प्यार होता किसी पत्थर दिल से हमको,
    या फिर कोई पत्थर दिल इंसान न होता।
    Kaash Usey Chahne Ka Armaan Na Hota,
    Main Hosh Mein Rehte Huye Anjaan Na Hota,
    Na Pyar Hota Kisi Patthar Dil Se HumKo,
    Ya Fir Koi Patthar Dil Insaan Na Hota.

zakhmi dil shayari hindi 140 words For Chingari

  • हो अगर कोई शिकायत मुझ..
    तो साफ साफ कह देना..
  • baaton hi baaton main ishara kar ke
    khud bhi roya humse kinara kar ke
    ek hi saher main rahena hai magar milna nahi
    dekhte hai ye inayat hum bhi gawara kar ke

dil shayari pic hindi For Chingari

  • अब कर के फ़रामोश तो नाशाद करोगे; पर हम जो न होंगे तो बहुत याद करोगे।
  • इंतजार किस पल का किये जाते हो यारों; प्यासों के पास समंदर नही आने वाला; लगी है प्यास ​तो ​चलो रेत निचोड़ी जाए​;​ अपने हिस्से में समंदर नहीं आने वाला​।

dil ki shayari in english For Chingari

  • फिर तेरी याद फिर तेरी तलाश फिर तेरी बातें,
    देखो न दायरा-ए -ज़िन्दगी मेरा तुम तक सिमट गया।
  • सुकून की बात मत कर ऐ ग़ालिब; बचपन वाला इतवार अब नहीं आता।

dil shayari urdu For Chingari

  • nahi qabil tere lekin munaseeb jo agar samjho
    yaad rakhna duwaon mein yahi hai duaa dost
    ख्याल रखना अपना कभी हमारा ख्याल आए तो
    उस वक्त हम नही होंगे वहां तुम्हे सहारा देने के लिए
  • तुझे मुफ्त में जो मिल गए हम​;​​​​ ​तु कदर ना करे ये तेरा हक़ बनता है​।

dil shayari facebook For Chingari

  • Jeene Ke Liye Tumhari Yaad Hi Kaafi Hai,
    Is Dil Me Bas Ab Tum Hi Baaki Ho,
    Aap To Bhool Gaye Ho Hume Apne Dil Se,
    Lekin Hume Aaj Bhi Teri Talash Baaki Hai.
  • itna door mat ja ke waqt ke faisle par afsoos ho
    tum jab laut kar aao to ye jism mitti main khamosh ho

dil bechara shayari in hindi For Chingari

  • Maykhane Se Poocha Aaj Itna Snnata Kyu Hai,
    Bola Saahab Lahu Ka Dour Hai Sharab Kon Peeta Hai.
  • jungle main rahta hoon kaanto par suta hoon
    jab teri yaad aati hai to ji bhar ke ruta hoon

dil shayari 4 line For Chingari

  • सोचता हूँ कि तेरे दिल में उतर के देखूँ,
    कौन बसा है जो मुझे बसने नहीं देता।
    Sochta Hoon Ke Tere Dil Mein Utar Ke Dekhun,
    Kaun Basaa Hai Jo Mujhe Basne Nahi Deta.
  • तुझ से मिलने को बे-क़रार था दिल,
    तुझ से मिल कर भी बे-क़रार रहा. ????

dil shayari in english For Chingari

  • मैंने कब चाहा कि… मैंने कब चाहा कि मैं उस की तमन्ना हो जाऊँ; ये भी क्या कम है अगर उस को गवारा हो जाऊँ; मुझ को ऊँचाई से गिरना भी है मंज़ूर अगर; उस की पलकों से जो टूटे वो सितारा हो जाऊँ; लेकर इक अज़्म उठूँ रोज़ नई भीड़ के साथ; फिर वही भीड़ छटे और मैं तनहा हो जाऊँ; जब तलक महवे-नज़र हूँ मैं तमाशाई हूँ; टुक निगाहें जो हटा लूं तो तमाशा हो जाऊँ; मैं वो बेकार सा पल हूँ न कोइ शब्द न सुर; वह अगर मुझ को रचाले तो हमेशा हो जाऊँ; आगही मेरा मरज़ भी है मुदावा भी है साज़ ; जिस से मरता हूँ उसी ज़हर से अच्छा हो जाऊँ।
  • राजे हकीकत जान ने वाले देखिये क्या कहते हैं,
    दिल को मेरा दिल नहीं उनकी तमन्ना कहते हैं।

zakhmi dil shayari english mein For Chingari

  • तुम मेरे लिए कोई इल्जाम न ढूँढ़ो
    चाहा था तुम्हे, यही इल्जाम बहुत है !!
  • mujh mein kiya hai jo mujhe yaad karega koi
    yahan acche acchon ko log bhul jaya karte hai

Deal of The Day


You may also like