Dooriyan SMS For Women

door rehne wali shayari For Women

  • मैंने ज़िल्लत और रूस्वाई के बाद भी अगर…
    किसी को मुहब्बत पर क़ायम देखा तो वो ‘औरत’ है…!!
  • सच ये हे बेकार हमें ग़म होता हे,
    जो चाहा था दुनिया में कम होता हे।

dooriyan shayari For Women

  • पसीने की स्याही से जो लिखते हैं अपने इरादों को
    उनके मुक़द्दर के पन्ने कभी कोरे नहीं हुआ करते
  • जिन्दगी को आसान नहीं खुद को मजबूत बनाना पड़ता है…
    सही समय कभी नही आता समय को सही बनाना पड़ता…

dooriyan shayari photo For Women

  • उसकी हसरत है जिसे दिल से मिटा भी न सकू,
    ढूंढ़ने उसीको चल हूँ जिसे कभी पा भी न सकू।
  • परछाई से भी अपनी, लगते है डरने वो,
    जिन्होंने दूसरों से रौशनी उधार ले रखी हो।

dooriyan shayari dp For Women

  • गहरी बातें समझने के लिए गहरा होना जरुरी है,
    और गहरा वही हो सकता है जिसने गहरी चोटें खायी हो…
  • अगर तुम्हें पा लेते तो किस्सा इसी जन्म में खत्म हो जाता,
    तुम्हे खोया है तो यक़ीनन कहानी लम्बी चलेगी…

dooriyan shayari facebook For Women

  • जमाने को बदलता देखकर, खुद को ना बदल पाया मैं,
    बस राहों में ही गुजर हुई जिंदगी, कभी मंजिल तक…
  • बेसबब बेवज़ह पलकें भीगती नहीं हैं,
    ख़लिश का तिनका इन आँखों में कहीं है…!

duriya hi dawa ban gayi For Women

  • तेरे ही किस्से तेरी ही कहानियाँ मिलेंगी मुझमें,
    मैं कोई अख़बार नहीं जो रोज़ बदल जाऊं…!
  • नाज है मुझे तेरी नफरतों का अकेला वारिस हूँ.,
    मोहब्बत तो तुम्हे बहुत से लोगों से है..।।

duriya hi dawa ban gayi For Women

  • सिमट गया मेरा प्यार भी चंद अल्फाजों में, जब उसने कहा मोहब्बत तो है पर तुमसे नहीं.
  • इंसान हमेशा ज़िन्दगी में दो चीज़ो से हारता है…
    पहला वक़्त और दूसरा प्यार…!!

bin tere shayari For Women

  • एक बात ज़ुबा पे सो बार आयी…
    वही बात ज़ुबा से सो बार लौट गयी…!!
  • हथेलियों पर खींचने से लकीरें, मुक़दर नहीं बदलता…
    सोच से ही है सब कुछ, बिन सोचे कुछ नहीं बदलता…!!

dooriyan shayari urdu For Women

  • उसका मिलना था इत्तेफ़ाक़, बिछड़ना नसीब था..
    वो उतना ही दूर हो गया जितना करीब था !!
  • ऐसा नहीं कि शख्स अच्छा नहीं था वो,
    जैसा मेरे ख्याल में था बस वैसा नहीं था वो।
    Aisa Nahi Ki Shakhs Achchha Nahi Tha Wo,
    Jaisa Mere Khayal Mein Tha Bas Waisa Nahi Tha Wo.

dooriyan song lyrics For Women

  • वाह रे नसीब तूने भी क्या खेल खेला है
    मुहब्बत बाँटने वाला भी आज अकेला है
  • गिर रहा है दिन ब दिन इंसानियत का स्तर
    और इंसान का दावा है कि हम तरक्की पर हैं.

dosti dooriyan shayari For Women

  • जज: तुम्हारा वकील कहाँ है? चोर: जी मेरा वकील नहीं है। जज: लेकिन वकील होना ज़रूरी है। कोई बात नहीं हम तुम्हें सरकारी वकील दे देंगे। चोर: नहीं हुज़ूर मुझ पर रहम कीजिये। मुझे कोई वकील नहीं चाहिए। जज: क्यों? चोर: हुज़ूर बात यह है कि मैं अपनी चुराई मुर्गियां अकेले ही खाना चाहता हूँ।
  • Mausam Ki Tarah Badal Dete Hai Log Humsafar Apna,
    Humse To Apna Sitamgar Bhi Nahi Badla Jata.

shayari on distance For Women

  • इश्क अभी पेश ही हुआ था इंसाफ के कटघरे में,
    सभी बोल उठे यही कातिल है.. यही कातिल है।
  • महीने भर में करता हूँ इकट्ठे आँसूं के सिक्के..
    फिर उसके दिल में रहने का किराया भेज देता हूँ…

dooriyan quotes in hindi images For Women

  • क्या बताये अपनी चाहतों का आलम,
    वो पल ही याद नहीं.. जिस पल तुझे हम भूले हों।
  • जिंदगी मजदूर हुई जा रही है..!!
    और लोग सेठ जी कहकर ताने मार रहे हैं..!!!

doorie quotes in hindi For Women

  • होंगी जमाने भर की डिग्रीयाँ तुम्हारे पास.
    छलकते आँसू माँ बाप के आखों के न पढ़ पाये तो अनपढ़ हो…
  • अगर बे-ऐब चाहते हो तो फरिश्तों से रिश्ता कर लो,
    मैं इंसान हूँ और खताएं मेरी विरासत हैं..!

funny shayari on intezaar For Women

  • Kitna Ikhtiyar Tha Usse Apni Chaahat Par,
    Jab Chaaha Yaad Kiya Jab Chaaha Bhula Diya,
    Achhe Se Janta Hai Wo Mujhe Buhlane Ke Tareeke,
    Jab Chaaha Hansa Diya Jab Chaaha Rula Diya.
  • मेरी हर शायरी मेरे दर्द को करेगी बंया ए गम
    तुम्हारी आँख ना भर जाएँ, कहीं पढ़ते पढ़ते।

You may also like