Non Veg Shayari For BF

non veg shero shayari For BF

  • दिलो से खेलना हमें भी आता है
    मगर जिस खेल में दोस्तों का दिल टूट जाए
    वो खेल हमें पसंद नहीं
  • है कोई मुझे मेरे ख्वाब की, ताबीर बताने वाला
    मैने देखा है खुद की लाश पेँ खुद को रोते हुए

non veg shayari for friend insult For BF

  • उसने पूछा की क्या पसंद है तुम्हे
    और मैं बहुत देर तक उसे देखता रहा
  • देख पगले Degree तो तुजे किसी भी College से मिल जायेगी
    मगर Knowledge तो मेरे Status से ही मिलेंगा

non veg shayari in hindi language For BF

  • प्यारा सा एसास हो तुम हर पल मेरे पास हो तुम जीना की इक आस हो तुम
    मन का इक विशवास हो तुम शायद इस लिए कुछ खास हो तुम
  • कोई नामुमकिन सी बात मुमकिन करके दिखा
    खुद पहचान लेगा जमाना तुझे तू भीड़ में भी अलग चल कर दिखा

arz kiya hai non veg shayari For BF

  • कुछ लोग अपने स्टेटस में Born To Rule तो ऐसे लिखते हैं

    जैस सिकंदर इन्ही के खानदान से था

  • जब भी होता हैं बेचैन ये दिल तेरे दीदार को
    उठाके निगाहें देख लेते हैं फ़लक़ पे चाँद को—-|

non veg shayari for wife For BF

  • तेरी चाहत का ऐसा नशा चढ़ा है की शायरी हम लिखते है
    और दर्द पूरा ShayariHall सहता है
  • कितनी अजीब दुनिया हैं जहाँ औरतें दूसरी औरतों की शिकायते करते नहीं थकती
    जबकि पुरूष दूसरी औरतों की तारीफ करते नहीँ थकते पुरुष सच में महान होते हैं

valentine day non veg shayari For BF

  • अभिमान किसी को ऊपर उठने नही देता और
    स्वाभिमान किसी को निचे झुकने नही देता
  • तुझे याद कर लूँ तो मिल जाती है हर दर्द से राहत
    ऐ माँ
    लोग यूँ ही हल्ला मचाते है कि दवाइयाँ महँगी हैं

very non veg shayari in hindi For BF

  • सूना है आज वो छत पर सोने जा रही है
    खुदा खैर करे उन सितारो की
    ,
    कही उसे चाँद समझ कर जमीं पर ना उतर आये
  • बस तू मेरी आवाज़ से आवाज़ मिला दे
    फिर देख कि इस शहर में क्या हो नहीं सकता

jija sali non veg shayari in hindi For BF

  • आज नजर भर उसे देखा तो यूँ लगा
    जैसे प्यासे ने पानी पहली बार पिया हो
  • कई लडकियाँ मुझे ऑनलाइन देख कर भी जलती होगी
    और सोचती होगी की यह बन्दा मेरे से बात नहीं कर रहा है
    तो किसके साथ कर रहा है

non veg shayari on pakistan in hindi For BF

  • कमीनेपन की तो बात ना कर दोस्त में उनमे से हूँ
    जो मछली को भी डुबो डुबो के मारता हैं
  • कहने लगी है अब तो मेरी तन्हाई भी मुझसे
    मुझसे ही कर लो मोहब्बत मैं तो बेवफा नही
    Er kasz

non veg shayari and jokes For BF

  • उसने हाथो से छूकर दरिया के पानी को गुलाबी कर दिया
    हमारी बात तो और थी उसने मछलियो को भी शराबी कर दिया
  • सितम सब सह लिए तेरे दिल और रूह ने पर
    थोड़ा स्वाभिमान अभी बाकी है मुझमें

You may also like