Non Veg Shayari For Hubby

non veg shero shayari For Hubby

  • सूना है आज वो छत पर सोने जा रही है खुदा खैर कर उन सितारो की
    कही उसे चाँद समझ कर जमीं पर ना उतर आये
    G.R..s
  • मुझे सिर्फ दो ही तरह की लड़कियां पसंद है
    1. चश्मे वाली
    2. बिना चश्मे वाली

non veg shayari in hindi for friends For Hubby

  • खिंच चुके है मासूम जो नकाब चेहरों से खुद ही गिर जाएँगे एक दिन
    न बेकार समय गँवा कुछ सच्चे चेहरे तलाश
  • जिसे शिद्दत से चाहो वो मुद्दत से मिलता है
    बस मुद्दत से ही नहीं मिला कोई शिद्दतसे चाहने वाला
    Er kasz

non veg shayari jokes For Hubby

  • छोड दी हमने हमेशा के लिए उसकी आरजू करना
    जिसे मोहब्बत की कद्र ना हो उसे दुआओ मे क्या मांगना
  • आजकल मेरी ‪‎पड़ोसन‬ की छोरी मुझे देखकर अपना ‎पल्लू‬ संभालने लगी हैं
    लगता है वो भी अब ‎सावधान ‎इंडिया देखने लगी है।

non veg shayari in hindi images For Hubby

  • कुछ लोग अपने स्टेटस में Born To Rule तो ऐसे लिखते हैं

    जैस सिकंदर इन्ही के खानदान से था

  • तुम्हे इंसान पहचानना बिलकुल नहीं आता
    हमेशा कहते रहे वो सच खुद उन्हें पहचानने में अपनी आधी ज़िन्दगी लगा दी मैंने

hindi non veg shayari 2016 For Hubby

  • फुलो सा खुबसुरत चेहरा हैं आपका हर दिल दिवाना है आपका
    लोग कहते है चाँद का टुकडा है आप लेकिन हम कहते है चाँद टुकडा है आपका
  • सुनो नादान सा दिल है मेरा
    जिसे हर कोई बुद्धु बनाता है

non veg shayari hindi For Hubby

  • सुना है आजकल तेरी मुस्कराहट गायब हो गई है
    तेरी इजाजत हो तो फिर से तेरे करीब आऊँ
  • तुमने कहाँ हम याद नहीं आएँगे तुम्हें फिर
    बताना ज़रा ये सुबह-सुबह हमारा ज़िक्र क्युँ बोलो

non veg shayari photo For Hubby

  • Fashionable बनने के लिए आपको ज्यादा मेहनत करने की जरूरत नहीं है
    ये काम आप my को mah you को uh और is को iz लिखकर भी कर सकते है
  • कमाल का ताना दिया आज किसी ने मुझे
    के लिखते तो खूब हो कभी समझा भी दिया करो

non veg bewafa shayari in hindi For Hubby

  • लड़की ढूंढनी होती तो कबकी ढूँढ लेते
    हम तो बादशाह है रानी ही ढूढेंगे
  • अभी हमारे हुनर का अंदाजा नहीं आपको
    हम तो उन्हें भी जीना सिखा देते हैं
    जो मरने का शौक रखते हैं

non veg gandi shayari For Hubby

  • सच बोलने में या सुनने में कोई दिक्कत नहीं है
    बस हज़म करने में दिक्कत होती है
  • पुरानी होकर भी खास होती जा रही है
    मोहब्बत बेशरम है बेहिसाब होती जा रही है
    er kasz

non veg shayari wallpaper For Hubby

  • दिलो से खेलना हमें भी आता है
    मगर जिस खेल में दोस्तों का दिल टूट जाए
    वो खेल हमें पसंद नहीं
  • बहुत रोये थे हम उस दिन जब एहसास हुआ था, खंजर लगा एक पीठ पर
    आज लहुलुहान पीठ लेकर भी चुपचाप चलते जा रहे

You may also like