Non Veg Shayari For Men

non veg shayari for friends For Men

  • उनसे कहना की क़िस्मत पे ईतना नाज ना करे
    हमने बारिश मैं भी जलते हुए मकान देखें हैं
    er kasz
  • अपनों से करके किनारा राह के मुसाफिरों को अपना कहने वाला
    मुड़ के आएगा जिस दिन बिखर चुका होगा तेरे अपनों का मेला

non veg shayari for wife For Men

  • सूना है आज वो छत पर सोने जा रही है खुदा खैर कर उन सितारो की
    कही उसे चाँद समझ कर जमीं पर ना उतर आये
    G.R..s
  • जब भी होता हैं बेचैन ये दिल तेरे दीदार को
    उठाके निगाहें देख लेते हैं फ़लक़ पे चाँद को—-|

non veg shayari and jokes For Men

  • बहुत रोये थे हम उस दिन जब एहसास हुआ था, खंजर लगा एक पीठ पर
    आज लहुलुहान पीठ लेकर भी चुपचाप चलते जा रहे
  • दिलो से खेलना हमें भी आता है
    मगर जिस खेल में दोस्तों का दिल टूट जाए
    वो खेल हमें पसंद नहीं

non veg shayari 2019 For Men

  • अभी हमारे हुनर का अंदाजा नहीं आपको
    हम तो उन्हें भी जीना सिखा देते हैं
    जो मरने का शौक रखते हैं
  • अभिमान किसी को ऊपर उठने नही देता और
    स्वाभिमान किसी को निचे झुकने नही देता

santa banta non veg jokes shayari For Men

  • नज़र को नज़र की खबर ना लगे कोई अच्छा भी इस कदर ना लगे
    आपको देखा है बस उस नज़र से जिस नज़र से आपको नज़र ना लगे
  • कोई नामुमकिन सी बात मुमकिन करके दिखा
    खुद पहचान लेगा जमाना तुझे तू भीड़ में भी अलग चल कर दिखा

non veg shayari and jokes in hindi For Men

  • बुरे हैं ह़म तभी तो ज़ी रहे हैं
    अच्छे होते तो द़ुनिया ज़ीने नही देती
    Er kasz
  • बात इतनी सी थी कि तुम अच्छे लगते थे
    अब बात इतनी बढ़ गई कि तुम बिन कुछ अच्छा नहीं लगता

very non veg shayari in hindi For Men

  • उमर लग जाती है एहसासों को अल्फ़ाज़ देने में
    फ़क़त दिल टूटने भर से कोई शायर नहीं बनता
    Er kasz
  • कहने लगी है अब तो मेरी तन्हाई भी मुझसे
    मुझसे ही कर लो मोहब्बत मैं तो बेवफा नही
    Er kasz

new year non veg shayari in hindi For Men

  • फुलो सा खुबसुरत चेहरा हैं आपका हर दिल दिवाना है आपका
    लोग कहते है चाँद का टुकडा है आप लेकिन हम कहते है चाँद टुकडा है आपका
  • उनके होंठोँ से झरते हैं, हीरे और मोती…
    जो उनसे बात भी कर ले, अमीर हो जाये….!!!

non veg shayari to insult someone For Men

  • कुछ यूँ लत लगी है शायरियां लिखने की
    कि समझ मे नही आता बचपन में स्कूल जाते थे या मयख़ाने
    G.R..s
  • आज नजर भर उसे देखा तो यूँ लगा
    जैसे प्यासे ने पानी पहली बार पिया हो

best non veg jokes shayari in hindi For Men

  • आँखों से पानी गिरता है तो गिरने दीजिये
    कोई पुरानी तमन्ना पिघल रही होगी
  • उलझा हुआ हूँ अभी मैं अपनी उलझनों में
    तुम ये ना समझना ना कि तुम्हें चाहा था बस दो दिन के लिए

You may also like