Non Veg Shayari For Spouse

non veg shayari hindi mai For Spouse

  • अपनों से करके किनारा राह के मुसाफिरों को अपना कहने वाला
    मुड़ के आएगा जिस दिन बिखर चुका होगा तेरे अपनों का मेला
  • आजकल मेरी ‪‎पड़ोसन‬ की छोरी मुझे देखकर अपना ‎पल्लू‬ संभालने लगी हैं
    लगता है वो भी अब ‎सावधान ‎इंडिया देखने लगी है।

non veg cid shayari For Spouse

  • बुरे हैं ह़म तभी तो ज़ी रहे हैं
    अच्छे होते तो द़ुनिया ज़ीने नही देती
    Er kasz
  • जब वाे मुँह में क्लिप दबा कर खुले बालो का जुड़ा
    लगाती है
    कसम से
    ऐक बार ताे जिन्दगी वहीँ रूक
    जाती है..!!

non veg shayari sms in hindi For Spouse

  • उसने देखा ही नही अपनी हतेली को गोर से कभी
    उसमे धुंदली सी एक लकीर मेरे नाम की थी
  • उनसे कहना की क़िस्मत पे ईतना नाज ना करे
    हमने बारिश मैं भी जलते हुए मकान देखें हैं
    er kasz

non veg shayari hinglish For Spouse

  • उमर लग जाती है एहसासों को अल्फ़ाज़ देने में
    फ़क़त दिल टूटने भर से कोई शायर नहीं बनता
    Er kasz
  • सुनो नादान सा दिल है मेरा
    जिसे हर कोई बुद्धु बनाता है

non veg shayari latest For Spouse

  • हमारे आँखो मे वो नशा है जो किसी को भी hangover करवा दे
    इसलिए तो हम अपनी आँखो पे gogals पहनते
    G.R..s
  • मुझे ढूंढने की कोशिश न किया कर पगली
    तूने रास्ता बदला मैंने मंज़िल ही बदल दी
    er kasz

non veg shayari for boyfriend For Spouse

  • अभिमान किसी को ऊपर उठने नही देता और
    स्वाभिमान किसी को निचे झुकने नही देता
  • तेरी चाहत का ऐसा नशा चढ़ा है की शायरी हम लिखते है
    और दर्द पूरा ShayariHall सहता है

non veg shayari For Spouse

  • Fashionable बनने के लिए आपको ज्यादा मेहनत करने की जरूरत नहीं है
    ये काम आप my को mah you को uh और is को iz लिखकर भी कर सकते है
  • पुछा उसने मुझे कितना प्यार करते है
    मै चुप रहा यारो क्योकि मुझे तारो
    की गिनती नही आती

non veg shayari 2 lines For Spouse

  • जिसे शिद्दत से चाहो वो मुद्दत से मिलता है
    बस मुद्दत से ही नहीं मिला कोई शिद्दतसे चाहने वाला
    Er kasz
  • पुरानी होकर भी खास होती जा रही है
    मोहब्बत बेशरम है बेहिसाब होती जा रही है
    er kasz

non veg shayari hindi gali For Spouse

  • काश आपकी सूरत इतनी प्यारी ना होती
    काश आपसे मुलाकात हमारी ना होती
    सपनो में ही देख लेते हम आपको
    तो आज मिलनी की इतनी बेकरारी ना होती
  • माना की तुमारे पास हथियारोँ का काफिया होगा
    हम भी Aggarwal हैँ सीना फौलाद का रखते हैँ
    कोई गोली आर पार ना होगी
    Garg saha

non veg shayari for wife For Spouse

  • कितने स्वीट हो तुम मेरी सारे बातें मानते हो
    रात को ख़्वाबों में आए थे और मुस्कुराकर चले गए
  • चलो आज करते हैं शेर ओ शायरी का मुक़ाबला
    तुम ले आओ मीर ग़ालिब फ़राज़ की किताबें मैं सिर्फ अपने महबूब की तारीफ करूँगा

You may also like