Non Veg Shayari For Wifey

non veg shayari to friend For Wifey

  • खिंच चुके है मासूम जो नकाब चेहरों से खुद ही गिर जाएँगे एक दिन
    न बेकार समय गँवा कुछ सच्चे चेहरे तलाश
  • सुनो नादान सा दिल है मेरा
    जिसे हर कोई बुद्धु बनाता है

very non veg shayari in hindi For Wifey

  • कमीनेपन की तो बात ना कर दोस्त में उनमे से हूँ
    जो मछली को भी डुबो डुबो के मारता हैं
  • जब उसने मुझसे कहा तुम्हारे दोस्त अच्छे नहीं
    तब हम थोडा मुस्कुराये ओर कहा के पगली तेरी इतनी तो औकात नहीं
    की तु मेरे दोस्तों की औकात बता सके
    दिल तुझे दीया हैं लेकिन जान आज भी दोस्तो के लिए ही है

non veg shayari in hindi 2018 For Wifey

  • उनके होंठोँ से झरते हैं, हीरे और मोती…
    जो उनसे बात भी कर ले, अमीर हो जाये….!!!
  • इश्क़ में कोई खोज नहीं होती
    यह हर किसी से हर रोज नहीं होती
    अपनी जिंदगी में हमारी मौजूदगी को बेवजह मत समझना
    क्योंकि पलके कभी आँखों पर बोझ नहीं होती

non veg shayari marathi For Wifey

  • मुझे सिर्फ दो ही तरह की लड़कियां पसंद है
    1. चश्मे वाली
    2. बिना चश्मे वाली
  • कुछ यूँ लत लगी है शायरियां लिखने की
    कि समझ मे नही आता बचपन में स्कूल जाते थे या मयख़ाने
    G.R..s

non veg attitude shayari For Wifey

  • हम किसी के लिए उस वक़्त तक स्पेशल है
    जब तक उन्हें कोई दूसरा नहीं मिल जाता
  • कमाल का ताना दिया आज किसी ने मुझे
    के लिखते तो खूब हो कभी समझा भी दिया करो

non veg cid shayari For Wifey

  • मिला है धोखा पूरा यकीं था उनके आँसुओं ने पर पैदा किया भ्रम था
    भ्रम टूटा भी तो तब फिर जीना चाहने लगे थे जब
  • हजार गम मेरी फितरत नही बदल सकते
    क्या करू मुझे आदत हे मुस्कुराने की

non veg shayari hinglish For Wifey

  • मेरी हँसी में भी कई ग़म छुपे हैं डरता हूँ
    बताने से कहीं सबका प्यार से भरोसा न उठ जाए
  • खुशियाँ उतनी ही अच्छी
    जितनी मुट्ठियों मे समा जाए
    छलकती बिखरती खुशियो को
    अक्सर नजर लग जाया करती है

non veg shayari for dost For Wifey

  • पैसों से बंदूके मिलती हैं हिम्मत और जिगर नहीं
    जिस दिन हम से सामना होगा सारी गर्मी निकल जाएगी
  • उसने हाथो से छूकर दरिया के पानी को गुलाबी कर दिया
    हमारी बात तो और थी उसने मछलियो को भी शराबी कर दिया

non veg shayari pic For Wifey

  • वैसे दुश्मनी तो हम चिटी से भी नहीं करते
    लेकिन बीच में आया तो शेर को भी नहीं छोडते
  • अपनों से करके किनारा राह के मुसाफिरों को अपना कहने वाला
    मुड़ के आएगा जिस दिन बिखर चुका होगा तेरे अपनों का मेला

non veg comedy shayari in hindi For Wifey

  • अपनी औकात मे रहकर बात कर पगली
    जितने Boys तेरी फ्रेंडलिस्ट में हैं
    उससे ज्यादा तो Girls मेरी Block list में है
  • नाम से नाम नहीं जुड़ा करते बुद्धु
    दिल से दिल जुड़ा करते हैं समझे

You may also like