Aitbaar Shayari For BF

aitbaar mat karna shayari For BF

  • अलफ़ाज़ गिरा देते हैं जज्बात की कीमत,
    हर बात को अलफ़ाज़ में तोला न करो।
  • kisi insaan ki khubi dekho to isse bayan karo
    lekin agar khami mil jaye to wahan tumhari khubi ka imtehaan hai

aitbaar shayari in punjabi For BF

  • जब ज़मीर समझोता करना छोड़ दे तो
    समझ लो अब इंसानियत ख़तम हो गई
  • अलफ़ाज़ तो बहुत हैं
    मोहब्बत बयान करने के लिए,
    पर जो खामोशी नहीं समझ सकते
    वो अलफ़ाज़ क्या समझेगे।

aitbaar puja shayari For BF

  • Rutba To Khamoshiyon Ka Hota Hai Mere Dost…
    Alfaaz To Badal Jaate Hain Logon Ko Dekhkar.
  • सभी ग्रुप मेंबर्स को सूचित किया जाता है की ग्रुप का 2014 की पहली तिमाही (अप्रैल – जून) का ऑडिट होने वाला है। ग्रुप में कौन कौन से सदस्य एक्टिव हैं और किस सदस्य ने क्या क्या पोस्ट किया है इसका कड़ाई से आकलन किया जायेगा। जिन सदस्यों ने इस तिमाही में ग्रुप में कुछ नहीं भेजा है या अपना टारगेट पूरा नहीं किया है दोषी पाए जाने पर उनकी तरफ से पार्टी ली जा सकती है। अत: इस माह के अंत तक सभी सदस्य जल्द से जल्द अपना टारगेट पूरा करें। धन्यवाद्।

aitbaar shayari image For BF

  • kisi mukammal shaks ki talassh mein zindagi safar karne se bhetar hai
    kisi adhure insaan ko apne piyaar se mukammal karo
  • Dil Cheer Jaate Hain… Ye Alfaaz Unke…
    Wo Jab Kahte Hain Ham Kabhi Ek Nahin Ho Sakte.

aitbaar shayari urdu For BF

  • hamesha saath rhena chahte ho to ye baat yaad rakhna
    k kabhi bhi dusron ki baaton mein aa kar apno pe shak mat karna
  • True anmol vachan

    अजीब तरह गुजर रही है जिंन्दगी
    सोचा कुछ, किया कुछ, हुआ कुछ
    और मिला कुछ
    ajeeb tarah gujar rahee hai jinndagee
    socha kuchh, kiya kuchh, hua kuchh
    aur mila kuchh

    mat karana abhimaan khud par ai insaan
    tere aur mere jaise kitano ko khuda ne maatee se banaakar maati mein mila diya

wish shyari For BF

  • अब ये न पूछना के मैं अलफ़ाज़ कहाँ से लाता हूँ,
    कुछ चुराता हूँ दर्द दूसरों के कुछ अपनी सुनाता हूँ।
  • Jab Alfaaz Panno pe shor karne lage,
    Samajh lena Sannate badh gaye hain.

aitbaar shayari on facebook For BF

  • Alfaaz Giraa Dete Hain Jazbaat Ki Keemat,
    Har Baat Ko Alfaaz Mein Tola Na Karo.
  • ye barishon se dosti acchi nahi saheb
    kaccha tera makaan hai kuch to khayaal kar

aitbaar shayari rekhta For BF

  • jo insaan bohut ladhne ke baad bhi aapko manane ka hunar rakhta ho
    to samjh lena ke wo aap se be inteha mohabaat karta hai
  • Beautiful anmol vachan

    jyaada bojh lekar chalane vaale aksar doob jaate hai
    phir chaahe vah abhimaan ka ho ya saamaan ka

    जो इंसान बहुत ज्यादा झगड़ने के बावजूद
    भी आपको मनाने की कला रखता है
    तो समझलो की वो आपसे बेहिसाब
    मोहब्बत करता है
    jo insaan bahut jyaada jhagadane ke baavajood
    bhee aapako manaane kee kala rakhata hai
    to samajhalo kee vo aapase behisaab
    mohabbat karata hai

aitbaar nahi karna shayari song For BF

  • khushbon se kapdo ka mahekna koi badi baat nahi
    maza to tab aata hai jab aapke kirdaar se khusbo aane lage
  • वो कहते हैं…
    कैसे बयां करे हम अपना हल-ए-दिल,
    हमने कहा बस…
    तीन अलफ़ाज़ काफी हैं प्यार का इज़हार करने के लिए।

aitbaar karna shayari For BF

  • मेरी शायरी का असर उन पर हो भी तो कैसे हो ?
    के मैं अहसास लिखता हूँ वो अल्फाज़ पड़ते हैं।
  • Wo Kehte Hain…
    Kaise Bayan Kare Hum Apna Hal-E-Dil
    Humne Kaha Bas…
    Teen Alfaaz Kaafi Hote Hain Pyar Ka Izhar Karne ke Liye.

You may also like