Attitude Shayari For Girls

attitude shayari for instagram For Girls

  • माँ ने दूध में थोडा पानी मिलाया था,
    बच्चे तीन थे हिसाब लगाया था ।
  • समझदार इंसान का दिमाग़ चलता है…
    और ना समझ की जुबां…!!

attitude shayari 2018 For Girls

  • मेरा नाम जुड़े तेरी हस्ती से, मेरा नाम मुकम्मल हो जाएं
    एक तू जो दीवाना कह दे मुझे , इल्जाम…
  • मुझे सब्र के आदाब सिखाने वाले,,,
    तूने दो दिन तो मेरी दुनिया में गुज़ारे होते…

attitude shayari pic girl For Girls

  • ख्वाब हमारे टूटे तो हालात कुछ ऐसी थी,
    आँखे पल पल रोती थीं, किस्मत हँसती रहती थी।
  • अरमानों भरी सुबह है….
    लेकिन कोहरे में लिपटी हुई…!!!

attitude shayari urdu For Girls

  • खूं ये जलता ही रहेगा मरते दम तक
    दो आंखों में बहता हुआ तेरा गम होगा…
  • कुछ तो अलग है शख्सियत उसकी वरना,
    इतनी भीड़ में एक वही अपना-सा क्यों लगा

attitude shayari dosti For Girls

  • यूँ तो एक आवाज़ दूँ.. और बुला लूँ तुम्हें,
    मगर कोशिश ये है कि.. खामोशी को भी आज़मा लूँ ज़रा।
  • जलील न किया करो किसी फ़क़ीर को अपनी चौखट से साहब
    वो सिर्फ भीख लेने नहीं , दुआ देने भी…

attitude shayari tax For Girls

  • शबे इंतज़ार की कश्‍मकश ना पूछ कैसे सहर हुई
    कभी एक चराग़ जला लिया, कभी एक चराग़ बुझा दिया
  • नाजुक लगते थे जो हसीन लोग…
    वास्ता पड़ा तो पत्थर के निकले…!!

attitude shayari for fb For Girls

  • छोड़ो वफाओं के किस्से, ये उमरों का रोना है…
    पहले कौन हमारा था, जो अब किसी ने होना है…!!
  • अब तेरे ज़िक्र पे हम बात बदल देते हैं
    कितनी मोहब्बत थी तेरे नाम से पहले पहले

attitude shayari jabardasth For Girls

  • मुझ से खुशनसीब हैं मेरे लिखे हुए ये लफ्ज़,
    जिनको कुछ देर तक पढेगी, निगाह तेरी
  • दुकानें उसकी भी लुट जाती है अक्सर हमने देखा है…
    जो दिन भर में न जाने कितने ताले बेच देता…

no attitude shayari For Girls

  • Tujhse Mile Na The To Dil Me Koi Aarzoo Na Thi,
    Jo Deedar Hua Tera To Tere Talabgar Ho Gaye.
  • एक खलिश अब भी मुझे बेचैन करती है फ़राज़,
    सुनके मेरे मरने की खबर वो रोया क्यूँ था।
    EK Khalish Ab Bhi Mujhe BeChain Karti Hai Faraz,
    Sunke Meri Marne Ki Khabar Wo Roya Kyun Tha.

attitude shayari quotes in hindi For Girls

  • तू वो ज़ालिम है जो दिल में रह कर भी मेरा न बन सका
    और दिल वो काफिर जो मुझमे…
  • इक सौदा कर ले नसीब तू
    चल ये सांसे तेरी और ख्वाहिशे मेरी !!

You may also like