Bewafa Quotes For Chingari

dhoka shayari urdu For Chingari

  • ishq ki had ki hakiqat bata ke
    muqaddar mein mere zakhmo ka jahaan basa ke
    mehroom kar gaye hamari mohabbat ko
    kiya kya gunha humne jo tumne chhod diya
    sacchi mohabbat farma ke
    मेरी आँखों में आँसू की तरह, एक बार आ जाओ
    तक़ल्लुफ़ से बनावट से अदा से चोट लगती है
  • इश्क के तोहफे तुम क्या जानो सनम,
    तुमने तो इश्क भी ऐसे किया जैसे ख़रीदा हो…!!!

relationship dhoka shayari For Chingari

  • लगता है खुदा मुझे बुलाने वाला है,
    रोज़ मेरी झूटी कसमे खा रही है वो|
  • यूँ है सबकुछ मेरे पास बस दवा-ए-दिल नही,
    दूर वो मुझसे है पर मैं उस से नाराज नहीं,
    मालूम है अब भी मोहब्बत करता है वो मुझसे,
    वो थोड़ा सा जिद्दी है लेकिन बेवफा नहीं।

new dhoka shayari english For Chingari

  • हर इन्शान को भगवान् ने जिंदगी की
    ट्रेन का कंफर्म टिकट के साथ रिटर्न
    टिकट भी दिया था जिसे आप न
    भूले….. और जीवन की यात्रा को
    सौहार्दपूर्ण बनाये – जिससे आपका
    संस्मरण एक यादगार बन जाए – न की
    कष्टदायी…!
  • तरस जाओगे दीदार को भी
    जब लौट कर हम नही आए ||

dhoka shayari dosti For Chingari

  • सवाल तेरे मेरे दर्मियान बाकी है…
    नही अभी तो नही खत्म ज़िन्दगी होगी,
    अभी तो मेरे कई इम्तिहान बाकी है !
    सुबूत इसके सिवा दोस्ती का क्या दूँ मै,
    अभी तो चोट के गहरे निशान बाकी है !
    जो एक आसमाँ टूट भी गया है तो क्या,
    अभी तो सर पे कई आसमान बाकी है
  • तनहाई में फरियाद तो कर सकता हूँ वीराने को आबाद कर सकता हूँ
    जब चाहूँ तुम्हे मिल नहीं सकता लेकिन जब चाहूँ तुम्हे याद कर सकता हूँ

dhoka shayari love story For Chingari

  • मोहब्बत भी उधार कि तरह होती है…
    लोग ले तो लेते है मगर देना भूल जाते है…!!
  • मेरा गुस्ताख़ दिल तेरी ज़रा बदमाश सी आंखें
    अभी भी प्यार करने की बहुत वज़हें बची हैं
    G.R..s

dhoka shayari 2019 For Chingari

  • जिनकी याद में हम दीवाने हो गए वो हम ही से बेगाने हो गए
    शायद उन्हें तालाश है अब नये प्यार की क्यूंकि उनकी नज़र में हम पुराने हो गए
  • रहने को सदा जहाँ में आता नहीं कोई…,
    पर तुम जैसे गये वैसे भी जाता नहीं कोई।

dhoka khawa shayari For Chingari

  • Teri Wafa Ke Takaaje Badal Gaye Varna,
    Mujhe To Aaj Bhi Tujhse Azeez Koi Nahi.
  • हम दुश्मन को भी बड़ी पवित्र सज़ा देते हैं!
    हाथ नही उठाते, बस नजरो से गिरा देते हैं.

dhoka shayari gam bhari For Chingari

  • चेहरे अजनबी हो जाये तो कोई बात नही
    लेकिन रवैये अजनबी हो जाये तो बडी तकलीफ देते हैं
  • किसी इंसान का पहला प्यार बनना कोई बड़ी बात नहीं; बनना है तो किसी का आखिरी प्यार बनो; इसलिए यह मत सोचो कि तुमसे पहले वह किसी का प्यार था; कोशिश करो कि तुम्हारे बाद उसे किसी के प्यार की आवश्यकता ही न पड़े!

apne dhoka shayari For Chingari

  • फूलों के साथ काँटे नसीब होते हैं,
    ख़ुशी के साथ ग़म भी नसीब होता है,
    यूँ तो मजबूरी ले डूबती हर आशिक को,
    वरना खुशी से बेवफ़ा कौन होता है?
  • बेतअल्लुक़ी उसकी कितनी जानलेवा है
    आज हाथ में उस के फूल है न पत्थर है

dhoka shayari female For Chingari

  • तेरा नज़रिया मेरे नज़रिये से अलग था,
    शायद तुझे वक्त गुज़ारना था और मुझे जिन्दगी !!
  • Achchha Hota Jo UnSe Pyaar Na Hua Hota,
    Chain Se Rehte Hum Jo Deedar Na Hua Hota,
    Hum Pahunch Chuke Hote Hum Apni Manzil Par,
    Agar Ek Bewafa Par Aitbaar Na Hua Hota.

dhoka shayari hindi me For Chingari

  • क्या कहूँ इतना खूबसूरत चेहरा है तुम्हारा; ये दिल तो बस दीवाना है तुम्हारा; सब कहते हैं चाँद का टुकड़ा तुम्हें; मुझे लगता है चाँद भी टुकड़ा है तुम्हारा।
  • क्यों नाम दूँ उसे बेवफ़ा का ,
    वो तो वक़्त था ,
    जिसे मेरी हँसी
    देखी नही गयी !!

dhoka ki shayari in hindi For Chingari

  • Ye Chiraag-e-Jaan Bhi Ajeeb Hai,
    Ki Jala Hua Hai Abhi Talak,
    Uski Bewafai Ki Aandhiyaan To,
    Kabhi Ki Aa Ke Gujar Gayin.
  • मैं कभी बुरा नहीं था उसने मुझे बुरा कह दिया
    फिर मैं बुरा बन गया ताकि उन्हें कोई जुठा न कह सके

dhoka shayari urdu wallpaper For Chingari

  • हसीनो ने हसीन बनकर गुनाह किया,
    औरों को तो क्या हमको भी तबाह किया,
    पेश किया जब ग़ज़लों में हमने उनकी बेवफ़ाई को,
    औरों ने तो क्या उन्होने भी वाह-वाह किया।
  • हर पल कुछ सोचते रहने की आदत हो गयी है,
    हर आहट पे चौंक जाने की आदत हो गयी है,
    तेरे इश्क़ में ऐ बेवफा, हिज्र की रातों के संग,
    हमको भी जागते रहने की आदत हो गयी है।

rishtedar dhoka shayari For Chingari

  • तड़प के जब मेरे इश्क़ में तू रोना चाहेगी है
    मेरी याद तो आएगी मगर ये बेवफ़ा तू मुझे न…
  • न कोई मज़बूरी है न तो लाचारी है,
    बेवफाई उसकी पैदायशी बीमारी है।
    Na Koi Majburi Hai Na To Lachari Hai,
    Bewafai Uski Paidayshi Beemari Hai.

dhokha shayari pic download For Chingari

  • bewafa hum hi sahi khud pe bhi kuch gurur kro
    be rukhi aap ki hud se zayda to nahi
    जहाँ पर नफरतों के खुरदरे दस्तूर होते हैं
    वहाँ पर प्यार के किस्से बहुत मशहूर होते है
    ये रिश्तों के उजालों में चमकते और बुझते हैं
    कहीं ये अश्क होते हैं कहीं सिन्दूर होते हैं
  • सिर्फ एहसास होता है चाहत मे इकरार नहीं होता
    दिल से दिल मिलते हैं मोह्हबत में इंकार नहीं होता
    ये कब समझोगे मेरे दोस्तों दिल को लफजों की जरूरत नहीं होती
    ख़ामोशी सबकुछ कह देती है प्यार में इज़हार नहीं होता

You may also like