Dhoka Shayari For Beloved

dhoka shayari text For Beloved

  • किसमत पर नाज है तो वजह तेरी रहमत है
    खुशीयाँ जो पास हैं तो वजह तेरी रहमत है
    मेरे अपने मेरे साथ हैं तो वजह तेरी रहमत है
    मैं तुझसे महोब्बत की तलब कैसे ना करूँ
    चलती जो ये सांस है तो वजह तेरी रहमत है
  • वो मुझे भूल गयी होगी वर्ना
    इतनी मुद्दत कोई ख़फ़ा नहीं रहता…!

dhoka shayari english For Beloved

  • ये मासूमियत का कौन सा अन्दाज़ है,

    पर काट कर कह दिया कि,अब तुम आजाद हो।

  • dil chu jane wali hindi shayri

    यह आरजू नहीं कि किसी को भुलाएं हम;
    न तमन्ना है कि किसी को रुलाएं हम;
    जिसको जितना याद करते हैं;
    उसे भी उतना याद आयें हम

    yah aarajoo nahin ki kisi ko bhulaen ham;
    na tamanna hai ki kisi ko rulaen ham;
    jisako jitana yaad karate hain;
    use bhi utana yaad aayen ham

dhoka shayari and images For Beloved

  • तुम सादा-मिज़ाजी से मिटे फिरते हो जिस पर…
    वो शख़्स तो दुनिया में किसी का भी नहीं है…!!
  • न मैं शायर हूँ न मेरा शायरी से कोई वास्ता,
    बस शौक बन गया है तेरी बेवफाई बयाँ करना।
    Na Main Shayar Hoon Na Mera Shayari Se Koi Wasta,
    Bas Shauk Ban Gaya Hai Teri Bewafai Bayaan Karna.

dhoka shayari bhojpuri For Beloved

  • करो अगर प्यार तो धोखा मत देना; चाहने वालों को दर्द का तोहफा मत देना; आपकी याद में दिल से रोता हो जो वो; प्यार में उसको कभी धोखा मत देना।
  • ek zara si bhul huwi aur use khu baithe
    humne jise paya tha barso ibadat kar ke

dhoka shayari gujarati For Beloved

  • हम तो जल गए तेरी मोहब्बत में मोम की तरह,
    अगर फिर भी हम बेवफा हैं तो तेरी वफ़ा को…
  • छोड़ तो दी, रस्मे उल्फत ज़माने के लीए,
    मर मर के जिए है, हम दुआओं में उम्र ले कर !!

dhoka shayari whatsapp status For Beloved

  • उस के यूँ तर्क-ए-मोहब्बत का सबब होगा कोई,
    जी नहीं मानता कि वो बेवफ़ा पहले से था।
    Uske Yoon Tark-e-Mohabbat Ka Sabab Hoga Koi,
    Jee Nahi Manta Ki Wo Bewafa Pahle Se Tha.
  • जो ना समझ है वो ही मोहब्बत करता है
    वो मोहब्बत ही क्या जो समझ में आ जाए

dhoka attitude shayari in hindi For Beloved

  • जब भी होगी पहली बारीश.. ……तुमको सामने पाऐंगे….
    वो बुँदो से भरा चहरा.. ……तुम्हारा हम कैसे देख पाऐंगे..
    बहेंगी जब भी सर्द हवाऐं.. ……हम खुद को तनहा पाऐंगे…
    ऐहसास तुम्हारे साथ का.. ……हम कैसे महसूस कर पाऐंगे..
    इस दौडती हुई जिन्दगी में.. ……हम बिल्कुल ही रुक जाऐंगे..
    थाम लो हमे थमने से पहले.. ……हम कैसे युँ जी पाऐंगे..
    ले डूबेगा ये दर्द हमें …
  • दाद देते है तुम्हारे नजर अंदाज करने के हुनर को,
    जिसने भी सिखाया वो उस्ताद कमाल का होगा !

dhoka shayari status For Beloved

  • लग जाए जमाने की हवा जाने कब उसको,
    वो शख्स भी इंसान है कुछ कह नहीं सकते।
    Lag Jaye Zamane Ki Hawa Jaane Kab Usko,
    Wo Shakhs Bhi Insaan Hai Kuchh Keh Nahi Sakte.
  • तुमने चाहा ही नहीं हालात बदल सकते थे; तेरे आंसू मेरी आँखों से निकल सकते थे; तुम तो ठहरे रहे झील के पानी की तरह; दरिया बनते तो बहुत दूर निकल सकते थे!

zindagi dhoka shayari For Beloved

  • सवाल तेरे मेरे दर्मियान बाकी है…
    नही अभी तो नही खत्म ज़िन्दगी होगी,
    अभी तो मेरे कई इम्तिहान बाकी है !
    सुबूत इसके सिवा दोस्ती का क्या दूँ मै,
    अभी तो चोट के गहरे निशान बाकी है !
    जो एक आसमाँ टूट भी गया है तो क्या,
    अभी तो सर पे कई आसमान बाकी है
  • भुला कर मुझे इस तरह जी रहा है,
    वो जैसे मुझे जानता तक नहीं है…

dhoka shayari for friend For Beloved

  • सूरज आग उगलता है सहना धरती को पड़ता है
    मोह्हबत निगाहे कराती है सहेना दिल को पड़ता है
  • बर्बादी का दोष दुश्मनों को देती रही मैं अब तलक
    दोस्तों को भी परख लिया होता तो अच्छा होता
    यूँ तो हर मोड़ पर मिले कुछ दगाबाज लेकिन
    आस्तीन को भी झठक लिया होता तो अच्छा होता

dhoka shayari gam bhari For Beloved

  • हम से बिछड़ के फिर किसी के भी न हो सकोगे,
    तुम मिलोगे सब से मगर हमारी ही तलाश में।
    Hum Se Bichhad Ke Fir Kisi Ke Bhi Na Ho Sakoge,
    Tum Miloge Sab Se Magar Humari Hi Talaash Mein.
  • दुनिया खरीद लेगी हर मोड़ पर तुझे,
    तूने जमीर बेचकर अच्छा नहीं किया !!

dhoka ki shayari in hindi For Beloved

  • मत रख हमसे वफा की उम्मीद ऐ सनम,
    हमने हर दम बेवफाई पायी है,
    मत ढूंढ हमारे जिस्म पे जख्म के निशान,
    हमने हर चोट दिल पे खायी है।
  • dhoka shayari hindi

    पल पल उसका साथ निभाते हम
    एक इशारे पे दुनिया छोड़ जाते हम
    समुन्द्र के बीच में पहुच कर फरेब किया उसने
    वो कहता तो किनारे पर ही डूब जाते हम

dhoka shayari text message For Beloved

  • मेरी निगाहों में बहने वाला ये आवारा से अश्क
    पूछ रहे है पलकों से तेरी बेवफाई की वजह।
  • मैंने ही सिखाया था उसे तीर चलाना…
    अब मेरे सिवा, उस का कोई निशाना भी नहीं…!!

dhokha shayari two lines For Beloved

  • तेरी तो फितरत थी
    सबसे मोहब्बत करने की,
    हम बेवजह खुद को
    खुश नसीब समझने लगे।
  • मिल जाए उलझनो से फुरसत तो जरा सोचना,
    क्या सिर्फ फुरसतों मे याद करने तक का रिश्ता है हमसे…..!!!

dhokha shayari punjabi For Beloved

  • फूलों के साथ काँटे नसीब होते हैं,
    ख़ुशी के साथ ग़म भी नसीब होता है,
    यूँ तो मजबूरी ले डूबती हर आशिक को,
    वरना खुशी से बेवफ़ा कौन होता है?
  • Kabhi jo ham se pyar beshumaar karte the,
    kabhi jo ham par jaan nisaar karte the,
    bhari mahafil mein hamko bewafa kehte hain,
    jo khud se zyaada hampar aitabaar karte the. ?

You may also like