Dil Shayari For Women

dil shayari odia For Women

  • jab zindagi samjh mein aayi to zindagi se door the hum
    marna to chaha par jeene ko majboor the hum
    har saja humne qabul karli sir jhuka kar
    qasoor sirf itna tha ke be-qasoor the hum
    आपके ज़िक्र के बिना कैसे अपनी पूरी कहानी लिखूँ
    बताइये आपको वफ़ा लिखूँ या अपनी जिन्दगानी लिखू
  • शमा बुझा के रात देर तलक महफ़िल सजाई हमने,
    मैं अपने दिल को रोता रहा और ये दिल तेरे लिए।

dil churaya shayari For Women

  • Jhoonth Kahun To Lafzon Ka Dam GhutTa Hai,
    Sach Kahun To Log Khafa Ho Jaate Hain.
  • kon kab kisi ka hota hai ye sab jhute rishty nate hai
    sab dil rakhne ki batein hai sab asli roop chupate hai
    aqhlaakh se hai yahan log khali lafzon se teer chalate hai
    ek baat nighaon main aa kar bus saari umar rulate hai

dil udas shayari image For Women

  • Achhi Surat Najar Aate Hi Machal Jata Hai,
    Kisi Aafat Me Na Daale Dil-E-Nasad Mujhe.
  • तुम ने किया न याद कभी भूल कर हमें; हम ने तुम्हारी याद में सब कुछ भुला दिया।

zakhmi dil shayari hindi 140 For Women

  • ज़िन्दगी में हमेशा नए लोग मिलेंगे; कहीं ज्यादा तो कहीं कम मिलेंगे; ऐतबार ज़रा सोच समझ कर करना; मुमकिन नहीं हर जगह तुम्हें हम मिलेंगे।
  • जो आँसू दिल में गिरते हैं वो आँखों में नहीं रहते; बहुत से हर्फ़ ऐसे हैं जो लफ़्ज़ों में नहीं रहते; किताबों में लिखे जाते हैं दुनिया भर के अफ़साने; मगर जिन में हक़ीक़त हो वो किताबों में नहीं रहते।

dil ki awaz shayari For Women

  • Jis Nagar Bhi Jaao Kisse Hain Kambkhat Dil Ke,
    Koi Le Ke Ro Raha Hai Koi De Ke Ro Raha Hai.
  • dil ki galiyon main kabhi koi gum na ho
    tere labon ki muskaan kabhi kam na ho
    bus yahi dua hai ke tum sada khush raho
    kya pata kal jahan main hu whan hum na ho

dil wali shayari image For Women

  • मौजूद थी उदासी अभी तक पिछली रात की
    बहला था दिल ज़रा सा की फिर रात हो गई
  • सिर्फ चेहरे की उदासी से भर आये तेरी आँखों में आँसू,
    मेरे दिल का क्या आलम है ये तो तू अभी जनता नहीं।

dil love shayari urdu For Women

  • ताबीर जो मिल तो एक ख्वाब बहुत था,
    जो शख्स गवा बैठे वो नायाव बहुत था,
    मैं कैसे बचा लेता भला कश्ती-ए-दिल को,
    दरिया-ए-मोहब्बत में शैलाब बहुत था
  • Jiske Liye Tod Di Maine Saari Sarhaden,
    Aaj Usi Ne Kah Diya Ki Jara Had Me Raha Karo.

dil shayari dosti For Women

  • काम अब कोई न आएगा बस एक दिल के सिवा,
    रास्ते बंद हैं सब कूचा ए कातिल के सिवा।
  • Syaah Raat Mein Jalte Hain Jugnuon Ki Tarah,
    Dilon Ke Zakhm Bhi Dosto Kamaal Hote Hain.

dil dukhaya shayari For Women

  • भुला के मुझको अगर तुम भी हो सलामत; तो भुला के तुझको संभलना मुझे भी आता है; नहीं है मेरी फितरत में ये आदत वरना; तेरी तरह बदलना मुझे भी आता है।
  • mujhe heer ranja ki kahani mat suna aye ishq
    seedha saadha bol tujhe mri jaan cahiye

dil shayari marathi For Women

  • ज़माने भर की रुसवाईयां और बेचैन रातें,
    ऐ दिल कुछ तो बता ये माज़रा क्या है?
  • Kaam Ab Koyi Na Aayega Bas Ek Dil Ke Siwa,
    Raste Band Hain Sab Kucha e Qatil Ke Siwa.

dil shayari video For Women

  • हकीक़त कहो तो उनको ख्वाब लगता है; शिकायत करो तो उनको मजाक लगता है; कितनी शिद्दत से उन्हें याद करते हैं हम; और एक वो हैं जिन्हें ये सब इत्तेफाक लगता है।
  • Kitabein Bhi Bilkul Meri Tarah Hain,
    Alfaz Se Bharpur Magar Khamosh.
    किताबें भी बिल्कुल मेरी तरह हैं
    अल्फ़ाज़ से भरपूर मगर खामोश।

dil nadan shayari For Women

  • दीदार की तलब हो तो नजरें जमाये रखना,
    क्योंकि ‘नकाब’ हो या ‘नसीब’ सरकता जरूर है।
  • Main Nikla Sukh Ki Talash Mein Raste Mein Khade Dukho Ne Kaha,
    Hamein Saath Liye Bina Sukhon Ka Pata Nahin Milta Janaab.

dil shayari wallpaper download For Women

  • Kaash Banaane Wale Ne DIL Kanch Ka Banaya Hota,
    Dil Todne Wale Ke Haathon Mein Zakhm To Aaya Hota,
    Jab Bhi Wo Dekhta Apne Haathon Ki Taraf,
    Kam Se Kam Use Mera Khayal Ho Aaya Hota.
  • इस जहान में कब किसी का दर्द अपनाते हैं लोग; रुख हवा का देखकर अक्सर बदल जाते हैं लोग।

dil shayari in hindi images For Women

  • Chhod Do Kismat Ki Lakiron Pe Yakeen Karna,
    Jab Log Badal Sakte Hain To Kismat Kya Cheez Hai.
  • बरबाद कर दिया हमें परदेस ने मगर;माँ सबसे कह रही है कि बेटा मज़े में है..

dil shayari urdu image For Women

  • Khwahish Toh Thi Milne Ki
    Par Kabhi Koshish Nahi Ki,
    Socha Jab Khuda Mana Hai Usko
    Toh Bin Dekhe Hi Poojenge.
    ख्वाहिश तो थी मिलने की
    पर कभी कोशिश नहीं की,
    सोचा जब खुदा माना है उसको
    तो बिन देखे ही पूजेंगे।
  • ​मेरे बारे में अपनी सोच को थोड़ा बदलकर देख​;​ मुझसे भी बुरे हैं लोग तू घर से निकलकर देख​। ​

Deal of The Day


You may also like